• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • The People Of 6 Wards Asked Questions On The Issues Of Road, Sanitation sewerage And Drinking Water, The Councilor Said That We Are Also Not Behind In The Struggle With You.

दैनिक भास्कर का जनता से सीधा संवाद:6 वार्डों के लोगों ने सड़क, सफाई-सीवरेज और पेयजल के मुद्दों पर सवाल पूछे

उदयपुर4 महीने पहले
दैनिक भास्कर की ओर से प्रत्येक रविवार को वार्ड के लोगों और जिम्मेदारों को आमने-सामने बैठाकर यह कार्यक्रम किया जा रहा है।

उदयपुर में दैनिक भास्कर की ओर से आयोजित रूबरू कार्यक्रम में क्षेत्रवासियों ने जिम्मेदारों से जमकर सवाल पूछे। हिरणमगरी सेक्टर 4 स्थित झूलेलाल भवन में वार्ड 28, 29, 30, 37, 38 और 39 के स्थानीय लोगों ने सफाई, खस्ताहल सड़कों, पेयजल और सीवरेज- पट‌्टे के मुद्दे पर पार्षदों को खरी-खोटी सुनाई। 6 वार्डों के सामूहिक कार्यक्रम में महिलाओं और बुजुर्गों ने पार्कों के असामाजिक तत्वों के ठिकाने बनने पर भी नाराजगी जताई। ढाई घंटे तक चले कार्यक्रम में वार्ड 28 से मुकेश शर्मा, 29 से लोकेश गौड़, 30 से रमेशचंद्र जैन, 37 से अरविंद जारोली, 38 से हेमंत बोहरा और 39 के पार्षद चंद्रप्रकाश सुहालका मौजूद थे।

वार्ड 29 के बांशिदों ने कहा कि सीवरेज के काम खराब हुए हैं। पेयजल कम प्रेशर से आता है। इसका जवाब किससे मांगे? बलवीर सिंह कच्छावा ने कहा कि मिरिंडा स्कूल के पास वाली गली दो वार्डों के बीच फंसी हुई है। इस पर पार्षद मुकेश शर्मा ने कहा कि कल ही समाधान करा देंगे। सामुदायिक भवन में जल्द सुविधाघर चला देंगे। शशि शर्मा ने कहा कि सेक्टर-5 का पेयजल, अतिक्रमण, गायत्री पार्क उजाड़ पड़ा है। नालियां सड़कों से नीचे हैं? हालात खराब हो रही है।

रूबरू में अपने वार्ड की समस्या को रखते हुए क्षेत्रवासी।
रूबरू में अपने वार्ड की समस्या को रखते हुए क्षेत्रवासी।

वार्ड 30 के रहने वाले डॉ महेंद्र शर्मा ने बताया कि राणावत फार्म के सामने स्पीड ब्रेकर की जरूरत है। सरस डेयरी बूथ आज तक नहीं खुला, जिसे शुरू कराए? वही अमित श्रीवास्तव ने पूछा कि पूर्व में बनी सड़के 10 दिन में उखड़ गई है। अब जो निर्माण होना है। श्रीजी विहार न्यू विध्या नगर, सर्वोतम , ज्योति नगर वहाँ सड़क की निर्माण गुणवता को लेकर क्या तैयारी हैं? मैं बतौर सिविल इंजीनियर पूर्ण सहयोग के लिए तैयार हूँ। वार्ड में रोड लाइट को लेकर निगम ने एक ही व्यक्ति रख रखा है जो पूरे 5-6 वार्डों में काम करता है। एक आदमी नहीं सब नहीं सम्भाल सकता। निगम और व्यक्ति बढ़ाना चाहिए।

वार्ड 30 से भगवती लाल मंडोवरा ने कहा कि हाउसिंग बोर्ड की आधी रोड नहीं बनी, अतिक्रमण नजर क्यों नहीं आता, जैन स्थानक के सामने रामेश्वर पार्क में, मैं सफाई खुद करता हूँ,। इस पर पार्षद ने बताया कि जिस फर्म ने सीवरेज का काम किया वो बहुत घटिया था। निगम में कोई इसका जवाब नहीं देता है। इस पर पार्षद जैन ने कचरा गाड़ी कम हैं, जिन्हें बढ़वा रहे हैं, सड़कों की समस्या के लिए लगातार प्रतिबद्ध हूँ। खाली प्लाट का मुद्दा उठा चुका हूँ। स्पीड ब्रेकर लगवा देंगे। पुष्पा बाई ने पूछा कि नाला खुला है और मच्छरों ने बीमार कर रखा है? इस पर पार्षद जैन ने कहा कि नाले की समस्या के समाधान के प्रयास में लगा हूँ। बिजली बाधित नहीं हो इसके लिए संघर्षरत हूँ। पेयजल समस्या के लिए जनता के साथ आंदोलन करने को तैयार हूं।

क्षेत्र के लोगों ने अपने पार्षद से जमकर सवाल पूछे।
क्षेत्र के लोगों ने अपने पार्षद से जमकर सवाल पूछे।

वही कार्यक्रम में विष्णु पटेल ने कहा कि 2000 आवारा गाय और हजारों सुअरों ने जीना दुश्वार कर दिया है? स्मार्ट सड़क एक घोटाला है? पार्किंग तक नहीं है। इस पर कोई क्यों ध्यान नहीं दे रहा? वार्ड 38 के नेमीचंद जैन ने कहा कि आप लोग जनता की सुनते क्यों नहीं है? डॉ अमृतलाल तापड़िया : सड़क पर ठेले उन्हें उचित जगह उपलब्ध करवाएं, सर्कल छोटे हैं। पार्षद हेमंत बोहरा ने कहा कि सीवरेज के कई कनेक्शन बाकी हैं। जिन मकानों में कनेक्शन नहीं उनकी सूची दे दी है। जल्द समाधान करेंगे। वार्ड 37 के रहने वाले इंद्रदास वैरागी ने पूछा कि पेयजल, पार्क की समस्या रहती है। बिजली गुल रहती है, अनुपयोगी पौधे के चलते हालात खराब है। वार्डवासियों ने पूछा कि आवारा श्वानों से कैसे निजात मिलेगी?

वार्ड 28 के पार्षद मुकेश शर्मा ने कहा कि मेरे वार्ड में डेढ़ करोड़ में सड़क बनवा दी हैं। डूंगला हाउस की भी सड़क बनवा रहा हूँ। पार्क तैयार है, लाइट लगने वाली हैं। दो पार्क और विकसित होने वाले हैं। सामुदायिक भवन की मरम्मत करने वाले हैं। वार्ड 29 के पार्षद लोकेश गोड ने कहा कि इस मंच के माध्यम जनता से सीधा संवाद हो रहा है। जनता 3 बार से लगातार चुन रही है। बिजली, पेयजल और सीवरेज की समस्या का समाधान करवाकर रहूंगा। वार्ड 30 के पार्षद रमेशचंद्र जैन ने कहा कि झामर कोटड़ा पेयजल पाइपलाइन 2016से बंद है, इसे जल्द शुरू करवाने की मांग करते आ रहे हैं।

वार्ड 37 के पार्षद अरविंद जारोली ने कहा कि वार्ड में सड़क के टेंडर हो चुके हैं और काम बारिश के बाद शुरू होंगे। रेलवे लाइन की वजह से अर्थी को चार किमी चक्कर काटकर श्मशान ले जाते हैं। बजट मिल गया है-जल्द इससे भी मुक्ति दिला देंगे। वार्ड 38 के पार्षद हेमंत बोहरा ने बताया कि जनता की सभी समस्याओं का समाधान कराएंगे। सभी सड़कों का निर्माण हो चुका है। शेष के भी काम चल रहे हैं। वार्ड 39 के पार्षद चंद्रप्रकाश सुहालका ने कहा कि सेवाश्रम पर पानी लीकेज की समस्या का तीन माह से समाधान नहीं हो रहा है। रोज 50 हजार लीटर पानी व्यर्थ बहता है। इस पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है।