पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • The Water Level Of Pichola, Madar, Dewas, Udaysagar, Maddi Dams Increased Due To The Rain In The Past, Good Rain Expected This Whole Week

उदयपुर के बांधों में आया पानी:पिछले दिनों हुई बरसात से पीछोला, देवास, मदार, उदयसागर, मादड़ी बांध का जलस्तर बढ़ा, इस पूरे सप्ताह अच्छी बरसात की उम्मीद

उदयपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मदार तालाब - Dainik Bhaskar
मदार तालाब

उदयपुर में पिछले दिनों हुई बरसात के बाद अब कुछ तालाबों में पानी आने लगा है। जुलाई और लगभग पूरा अगस्त सूखा रहने के बाद पिछले एक सप्ताह से उदयपुर में अच्छी बरसात होने लगी है। रविवार देर शाम भी उदयपुर के कुछ हिस्सों में जमकर बरसात हुई। बड़ी, मदार, नाई, उबेश्वर, गोगुंदा क्षेत्र में बरसात होने से कई तालाबों में पानी आया है। वहीं, देवास, झाड़ोल क्षेत्र में बरसात होने से भी कुछ बांधों में पानी आया है।

अबतक उदयपुर जिले में 312 एमएम बरसात हुई है। यह औसत से काफी कम है। हालांकि इसका बड़ा कारण शहर में कम बरसात होना है। क्योंकि ग्रामीण इलाकों में शहर से बेहतर बरसात हुई है। यही वजह है कि कई तालाबों में पानी का जलस्तर बढ़ा है। उदयपुर में अबतक सबसे ज्यादा 499 एमएम बरसात वल्लभनगर में हुई है। वहीं ओगणा में 483 एमएम, देवास में 425 एमएम, झाड़ोल 363 एमएम, उदयसागर में 360 एमएम, बागोलिया में 281 एमएम, नाई में 228 एमएम और मदार में 233 एमएम बरसात हुई है। सबसे कम उदयपुर में 153 एमएम बरसात हुई है।

मदार, देवास और मादड़ी में पानी आया

बरसात से पिछले दिनों कई तालाबों में पानी आया है। सप्ताह भर में मादड़ी का जलस्तर 12 फीट 6 इंच से बढ़कर 14 फीट 6 इंच हो गया। देवास का स्तर भी बढ़कर 17 फीट तक पहुंच गया है। उदयसागर का जलस्तर भी बढ़कर 16 फीट 3 इंच हो गया है। पीछोला झील के कैचमेंट में बरसात होने और सीसारमा नदी से पानी की आवक होने के चलते पीछोला का जलस्तर भी अब बढ़कर 8 फीट हो गया है।

अगले कुछ दिनों में अच्छी बरसात की संभावना

उदयपुर में अगले कुछ दिन अच्छी बरसात होने की संभावना है। उदयपुर में मानसून का यह लगभग आखिरी दौर चल रहा है। उदयपुर में 9 सितम्बर तक सामान्य बरसात के बाद 10 और 11 सितम्बर को भारी बरसात होने की संभावनाएं जताई जा रही है। ऐसे में अगला पूरा सप्ताह उदयपुर में अच्छी बरसात होने की संभावना है। मौसम विशेषज्ञ उम्मीद कर रहे हैं कि मानसून के इस दौर में कम से कम इतनी बरसात हो जाए कि उदयपुर की औसत बरसात का कोटा पूरा हो जाए।

खबरें और भी हैं...