• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Those Who Snatched The Nose Have No Clue Even On The 5th Day, Now The Young Man Fights With The Guard Without Entering The Trauma Ward

एमबी अस्पताल की सुरक्षा पर सवाल:नथ झपटने वालों का 5वें दिन भी सुराग नहीं, अब ट्रोमा वार्ड में बिना पास घुस रहे युवक गार्ड से झगड़े

उदयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीमारदार वृद्धा से लूट के बाद फिर वारदात

एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी के सामने वृद्धा से नथ लूटने के आरोपियों का 5 दिन बाद भी सुराग नहीं लगा। शनिवार को ट्रोमा वार्ड के सिक्याेरिटी गार्ड से दो युवक झगड़ पड़े। पुलिस को आते देख दोनों भाग गए। इनके बारे में भी कुछ पता नहीं लग पाया है, क्योंकि अस्पताल परिसर के 120 में से 75 सीसीटीवी कैमरे बंद हैं। एक हफ्ते में अस्पताल परिसर में यह दूसरी घटना यहां रोज आने वाले मरीजों, तीमारदारों और कर्मचारियों समेत 15 हजार लोगों की सुरक्षा पर सवाल उठा रही है।

लूट मामले में सबसे बड़ी परेशानी यह आई है कि अस्पताल परिसर में कहीं भी सीसीटीवी कैमरे चालू नहीं मिले। हॉस्पिटल के प्रवेश द्वार के पास वाले प्रतिष्ठानों के कैमरे भी चालू नहीं मिले। फुटेज नहीं मिलने से अब तक बदमाशों की पहचान नहीं हाे पाई है। इधर, अस्पताल के ट्राेमा वार्ड में शनिवार दाेपहर बिना पास प्रवेश से रोकने पर दाे युवक सिक्याेरिटी गार्ड से उलझ गए। हाथापाई की नाैबत तक आ गई, लेकिन जैसे ही हाॅस्पिटल चाैकी का जाब्ता पहुंचा, दाेनाें युवक भाग गए। गार्ड ने पुलिस काे बताया कि भर्ती मरीज से मिलने के बहाने युवक वार्ड में जा रहे थे।

पूछने पर भी पास नहीं बताया, क्योंकि था ही नहीं। अंदर नहीं जाने देने पर दाेनाें धमकियां देने लगे। भीड़ जुट गई। गार्ड ने पुलिस काे बुलाया ताे दाेनाें कार से भाग गए। हालांकि थाने में इस घटना को लेकर काेई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। एएसआई डालचंद ने बताया कि चाैकी से जाब्ता भेजा था। मामला शांत हाे चुका था।

बता दें, गत 3 मई को वल्लभनगर निवासी वरदी बाई (50) पत्नी माना डांगी की नथ एक बदमाश झपटकर ले भागा था। वृद्धा तीन दिन से बेटी की तीमारदारी में लगी थी, जो प्रसव के कारण जनाना अस्पताल में भर्ती थी।

वरदी बाई मोर्चरी के बाहर जाली पर सुखाए कपड़े समेट रही थी कि पीछे से आए बदमाश ने नथ झपट ली थी। शोर मचाने पर बदमाश पास ही स्कूटी लिए खड़े साथी के साथ फरार हो गया था। पुलिस पड़ताल में सामने आया कि अस्पताल परिसर के 120 में से 75 सीसीटीवी कैमरे बंद हैं। अस्पताल प्रशासन कह चुका है कि केबल खराब होने से कुछ कैमरे बंद हैं। केबल की लागत का एस्टीमेट बनवा रहे हैं। ज्यादा लागत आएगी तो टेंडर करवाएंगे।

खबरें और भी हैं...