चंदन चोर की पिटाई:कुल्हाड़ी लेकर चंदन के पेड़ चुराने कार से आए थे तीन चोर, ग्रामीणों ने एक को पकड़कर जमकर पीटा; दो भागने में रहे सफल

उदयपुरएक वर्ष पहले

उदयपुर जिले के गोगुंदा इलाके में देर रात चंदन के पेड़ चोरी करने आए चोरों के एक साथी को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। युवक के हाथ में कुल्हाड़ी देखकर ग्रामीणों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत करवाया। पुलिस ने ग्रामीणों के कब्जे से युवक को हिरासत में लिया। इस दौरान स्थानीय लोगों ने चोर की पिटाई के वीडियो भी बना लिए।

जानकारी के अनुसार गोगुंदा क्षेत्र के अमरा जी का गुड़ा गांव में एक अल्टो कार से 3 बदमाश गांव में घुसे। एक मकान से कुछ दूर चोरों ने कार खड़ी की। चोर पैदल ही हाथों में कुल्हाड़ी लेकर चंदन के पेड़ को काटने पहुंचे। इस दौरान ग्रामीणों को इसकी भनक लग गई। ग्रामीणों ने चोरों को चारों तरफ से घेरने की रणनीति बनाई। उन्हें पकड़ने की कोशिश की। हालांकि लोगों की आवाज सुनकर दो चोरों ने स्थिति भांप ली। दोनों कुल्हाड़ी को वहीं फेंककर कार लेकर भाग निकले। तीसरे चोर को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। ग्रामीणों ने चोर की जमकर पिटाई कर दी।

ग्रामीण बार-बार युवक को पकड़कर उसके साथियों का नाम और गांव में आने का कारण पूछते रहे। पिटाई से घायल हुआ चोर कुछ भी बोलने से बचता रहा। सूचना पर पहुंची गोगुंदा पुलिस ने बीच-बचाव कर आक्रोशित ग्रामीणों को शांत करवाया। पुलिस चोर को हिरासत में लेकर अपने साथ थाने लाई। ग्रामीणों ने बताया कि वक्त रहते अगर चोर को नहीं पकड़ते तो चंदन के दो पेड़ काटकर ले जा लेते। फिलहाल पुलिस ने गोगुंदा हॉस्पिटल में घायल का प्राथमिक उपचार भी करवाया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

नहीं रुक रही चोरी की वारदातें
उदयपुर शहर के साथ गोगुंदा इलाके में कई गांवों में चंदन के पेड़ हैं। पेड़ों की संख्या का आंकड़ा तो वन विभाग के पास नहीं, लेकिन गांवों में चंदन के पेड़ काटकर चोरी करने की कई वारदातें सामने आ चुकी हैं। बीते सप्ताह ही हाथीपोल और सूरजपोल थाना पुलिस ने दो अलग-अलग कार्रवाईयों में पांच चंदन चोरों को पकड़ा था। ये चोर चित्तौड़गढ़ जिले के निम्बाहेड़ा के थे। ग्रामीण इलाकों में चंदन पेड़ काटकर चोरी होने करने की वारदातें कम नहीं हो रही।

एक पेड़ से होती है अच्छी खासी कमाई
जानकारी के अनुसार चंदन के एक पेड़ की अनुमानित कीमत करीब 10 हजार के आसपास होती है। वहीं विदेशी किस्म के चंदन का पेड़ करीब 15 हजार के आस-पास बिकता है। हालांकि तने की मोटाई के हिसाब से ही चंदन के पेड़ की कीमत तय होती है। तना मोटा और वजनदार है तो उसकी कीमत 50 हजार से भी ज्यादा हो सकती है। गोगुंदा क्षेत्र में अधिकांश पेड़ देशी किस्म के ही हैं।

कब्रिस्तान से चंदन चोरी : 5 आरोपी प्रोडक्शन वारंट से गिरफ्तार

खबरें और भी हैं...