कन्हैयालाल हत्याकांड में रेकी करवाने वाला 7वां आरोपी गिरफ्तार:दहशत फैलाने के लिए हत्यारों गौस और रियाज से वीडियो बनवाया

उदयपुर3 महीने पहले
बबला उर्फ फरहाद शेख। इसी ने हत्याकांड का वीडियो बनाने को कहा था। हत्या से पहले इसी ने अपनी गैंग से रेकी कराई थी।

उदयपुर के कन्हैयालाल हत्याकांड मामले में NIA ने 7वें आरोपी की गिरफ्तारी का खुलासा किया है। 30 जून को ही उसे टीम ने पकड़ लिया था। उसका नाम बबला उर्फ फरहाद शेख है। 16 जून को हुई सीक्रेट मीटिंग में बबला ने हत्यारों मोहम्मद गौस और रियाज अत्तारी को वीडियो बनाने के लिए कहा था। ताकि उस वीडियो को वायरल करके दहशत फैलाई जा सके।

उदयपुर के पटेल सर्किल और सवीना इलाके में चिकन लॉरी चलाने वाले बबला ने कन्हैयालाल सहित 5 अन्य लोगों की रेकी कराई थी। इस मामले में गौस और रियाज समेत 6 आरोपी पहले ही पकड़े जा चुके हैं। बबला ने मुस्लिम समाज के युवाओं की एक गैंग भी बना रखी है।

28 जून को दोपहर 2.45 बजे उदयपुर के मालदास स्ट्रीट में सुप्रीम टेलर्स के संचालक कन्हैयालाल साहू की धारदार हथियार से तालीबानी तरीके से हत्या कर दी गई थी। गौस और रियाज ने हत्या का लाइव वीडियो बनाया। साथ ही हत्या की जिम्मेदारी लेने का भी वीडियो बनाया। NIA ने बबला की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए रविवार को कहा कि वह दीवान शाह कॉलोनी निवासी है। इस कांड का प्रमुख आरोपी भी है।

नूपुर के समर्थन में पोस्ट करने वाले 6 लोगों की रेकी
इस मामले में मोहम्मद गौस और रियाज अत्तारी मुख्य आरोपी हैं। इसके बाद मोहसिन, आसिफ, मोहसिन और वसीम पकड़े जा चुके हैं। यह सभी हत्याकांड की प्लानिंग में शामिल थे। रविवार को NIA को बबला ​की गिरफ्तारी बताई। बबला, रियाज का रिश्तेदार है। इसने उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वाले आधा दर्जन लोगों की रेकी करवाई थी। इसमें कन्हैयालाल साहू भी शामिल थे।

कन्हैयालाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोहम्मद गौस और रियाज अत्तारी। इनके साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।
कन्हैयालाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोहम्मद गौस और रियाज अत्तारी। इनके साथ 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

50 से ज्यादा लोगों की बना रखी गैंग
बबला उर्फ फरहद शेख ने खांजीपीर, सिलावटवाड़ी, सवीना और मल्लातलाई के 50 से ज्यादा मुस्लिम युवाओं की गैंग भी बना रखी है। उसने इसी गैंग के जरिए रेकी करवाई थी। बबला आर्थिक रूप से सक्षम होने से रियाज और गौस को फडिंग करने में मदद करता था। बबला दावत ए इस्लामी का भी मेंबर है। मर्डर से पहले भी बबला से रियाज ने बात की थी। इस मामले में अमजद और उसका साथी फरार है।

अमजद की दुकान पर ही आरोपियों ने कपड़े बदले। इसी दौरान अमजद ने अपने आदमी को भेजकर रियाज की 2611 नंबर की बाइक में 600 रुपए का पेट्रोल भरवाया था।