कन्हैयालाल के हत्यारे 14 दिन की ज्युडिशियल कस्टडी में:CM ने की परिवार से मुलाकात; SHO और एसआई सस्पेंड

उदयपुर5 महीने पहले

उदयपुर में कन्हैयालाल साहू के हत्यारों को उदयपुर जिला अदालत ने 14 दिन की ज्युडिशियल कस्टडी में भेज दिया है। अब नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी(NIA) इन हत्यारों को जयपुर NIA कोर्ट में पेश करने के लिए ट्रांजिट रिमांड मांग सकती है। NIA इन आरोपियों को दिल्ली नहीं ले जाएगी।

राजस्थान पुलिस ने गुरुवार शाम को भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच दोनों हत्यारों को कोर्ट में पेश किया था। कोर्ट में वकीलों ने दोनों आरोपियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

उदयपुर में कन्हैयालाल साहू के मर्डर के मामले में अब एक नई थ्योरी भी सामने आ रही है। हत्यारों के आतंकी कनेक्शन को लेकर राजस्थान सरकार और NIA अलग-अलग दावे कर रही है। घटना की जांच हाथ में लेने के बाद NIA ने दावा किया है कि फिलहाल हत्यारों का किसी आतंकी संगठन से लिंक सामने नहीं आया है। जबकि एक दिन पहले राजस्थान सरकार ने दावा किया था कि दोनों अंतरराष्ट्रीय संगठनों से जुड़े हुए थे।

मुख्यमंत्री गहलोत ने कन्हैयालाल की पत्नी से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया और हर संभव मदद का आश्वासन दिया।
मुख्यमंत्री गहलोत ने कन्हैयालाल की पत्नी से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया और हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

इससे पहले उदयपुर में आतंकियों के हाथों मारे गए कन्हैयालाल के घरवालों से गुरुवार को राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने मुलाकात की। गहलोत ने कन्हैयालाल के घरवालों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

गहलोत ने मीडिया से कहा- NIA एक महीने के अंदर इस केस में जल्दी सजा दिला दे। NIA को समझना चाहिए कि प्रदेश के लोगों की भावना क्या है? कन्हैया को सुरक्षा दी गई या नहीं, क्या कमी रही, सभी चीजें NIA की जांच में सामने आ जाएगी। NIA की जांच पर भरोसा करना चाहिए, जांच निष्पक्ष होगी, हम पूरा सहयोग करेंगे। इस घटना ने देश को हिला दिया है।

कन्हैया के बेटे हर्ष साहू ने बताया कि CM ने आश्वासन दिया कि इन लोगों को फांसी होनी ही है। एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने का भी आश्वासन दिया है। पहले जो जांच हो रही थी, उससे हम संतुष्ट नहीं थे, मगर अब जो पिछले 2-3 दिन से जांच हो रही है, उससे हम संतुष्ट हैं।

हर्ष ने कहा कि अब हमारे मन में कोई डर नहीं, सभी लोग साथ हैं। CM, CS और DGP के साथ बैठक करेंगे व फिर थाने को लेकर कार्रवाई पर निर्णय किया जाएगा। हर्ष ने बताया कि CM ने उन्हें कहा कि मैं आपके साथ हूं, किसी भी समय आकर आप मिल सकते हो।

सीएम उदयपुर के बाद अजमेर पहुंचे। यहां बुधवार को राजसमंद के भीम में हुए उपद्रव के दौरान घायल हुए कॉन्स्टेबल संदीप से मुलाकात की।
सीएम उदयपुर के बाद अजमेर पहुंचे। यहां बुधवार को राजसमंद के भीम में हुए उपद्रव के दौरान घायल हुए कॉन्स्टेबल संदीप से मुलाकात की।

इधर, राज्य सरकार ने उदयपुर के धानमंडी थाने के SHO और SI को सस्पेंड कर दिया गया है, बाकी पुलिसकर्मियों को भी सस्पेंड किया जा सकता है। वहीं राजस्थान में गुरुवार को भी इंटरनेट बंद रहने के आसार हैं। जयपुर, अजमेर संभाग में गुरुवार शाम 5 बजे तक नेटबंदी की घोषणा कर दी गई है।

सर्व समाज के मौन जुलूस में पथराव
उदयपुर में तालिबानी मर्डर (कन्हैयालाल हत्याकांड) के विरोध में गुरुवार को सर्व समाज की ओर से मौन जुलूस निकाला गया। जुलूस में हजारों लोग शामिल हुए। जुलूस टॉउन हॉल से शुरू हुआ और कलेक्ट्रेट पर पहुंचा। कलेक्ट्रेट से लौटते समय दिल्लीगेट चौराहे पर कुछ युवकों ने पत्थर फेंक दिए।

इस दौरान पुलिस ने डंडे बरसाकर खदेड़ा। पथराव किस पर किया, यह पुलिस नहीं बता रही है। इधर, विभिन्न संगठनों ने राजस्थान के जयपुर, उदयपुर, पाली, कोटा, जालोर, जैसलमेर, करौली जिलों के कई शहरों में बंद का ऐलान किया।

कॉन्स्टेबल संदीप से मिले गहलोत, प्रमोशन मिलेगा
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उदयपुर में कन्हैयालाल के परिवार से मिलने के बाद अजमेर पहुंचे। अजमेर के जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में उन्होंने घायल कॉन्स्टेबल संदीप चौधरी से मुलाकात की। संदीप पर बुधवार को भीम कस्बे में तलवार से हमला हुआ था। मुख्यमंत्री ने संदीप को कॉन्स्टेबल से हेड कॉन्स्टेबल पद पर प्रमोशन देने और 10 लाख रुपए सहायता देने की घोषणा की।

1 पोस्ट से शुरू हुआ विवाद, 20 दिन की साजिश

गुजरात रोडवेज की बसें आने पर पाबंदी
गुजरात ने डूंगरपुर जिले के रतनपुर बॉर्डर से राजस्थान में आने वाली गुजरात रोडवेज की बसों को गुजरात के आखिरी बस स्टैंड शामलाजी में रोक दिया है। इसके बाद सभी यात्रियों को शामलाजी से राजस्थान आने वाली दूसरी बसों से अपने घरों या कामकाज वाली जगह पर जाना पड़ा।

गुजरात रोडवेज की सभी बसें अगले आदेश तक राजस्थान में नहीं आएंगी। वहीं गुजरात रोडवेज की जितनी बसें राजस्थान में हैं, उनको भी वापस बुलाने का निर्णय गुजरात रोडवेज प्रबंधन ने लिया है। गुजरात की सरकारी बसों को छोड़कर अन्य निजी बसें यथावत चल रही हैं।

कन्हैयालाल हत्याकांड के विरोध में गुरुवार को उदयपुर में सर्व समाज की ओर से बंद बुलाया गया। हजारों लोगों ने मौन जुलूस निकाला।
कन्हैयालाल हत्याकांड के विरोध में गुरुवार को उदयपुर में सर्व समाज की ओर से बंद बुलाया गया। हजारों लोगों ने मौन जुलूस निकाला।

इंजीनियरिंग फैक्ट्री में छापा मारा
SIT ने सापेटिया में गुरुवार को एसके इंजीनियरिंग फैक्ट्री में छापा मारा। फैक्ट्री में ही रियाज जब्बार ​​​​​​और गौस मोहम्मद ने कन्हैयालाल की हत्या करने के लिए हथियार तैयार किया था। बताया जा रहा है कि दोनों आतंकियों ने यहीं पर वीडियो बनाया था। SIT ने फैक्ट्री और ऑफिस को सील कर दिया है।

डूंगरपुर जिले के रतनपुर बॉर्डर से राजस्थान में आने वाली गुजरात रोडवेज की बसों को गुजरात के आखिरी बस स्टैंड शामलाजी में रोक दिया है।
डूंगरपुर जिले के रतनपुर बॉर्डर से राजस्थान में आने वाली गुजरात रोडवेज की बसों को गुजरात के आखिरी बस स्टैंड शामलाजी में रोक दिया है।

उदयपुर में तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी
उदयपुर में गुरुवार को तीसरे दिन भी कर्फ्यू जारी है। प्रदेशभर में इंटरनेट भी बंद है। पूरे प्रदेश में एक महीने के लिए धारा-144 लगा दी गई है। उदयपुर के ADM ओपी बुनकर ने बताया कि बुधवार को तो दो शिफ्ट में लैब असिस्टेंट परीक्षा थी। इसके चलते थोड़ी ढील दी गई थी। मगर गुरुवार को यह परीक्षा सिर्फ एक शिफ्ट में है।

टाउन हॉल से सभी समाज की ओर से रैली निकाली गई। सभी लोग कलेक्ट्रेट के बाहर शामिल होंगे।
टाउन हॉल से सभी समाज की ओर से रैली निकाली गई। सभी लोग कलेक्ट्रेट के बाहर शामिल होंगे।

NIA आतंकियों को ले जा सकती है दिल्ली
मामले में NIA की जांच और पूछताछ गुरुवार को भी जारी है। NIA, SIT और उदयपुर पुलिस लगातार आरोपियों से पूछताछ कर रही है। उदयपुर पुलिस ने पकड़े गए गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार के घर पर भी छापेमारी की है। NIA पूछताछ कर आरोपियों को कोर्ट में पेश करेगी। इसके बाद इन्हें गिरफ्तार कर दिल्ली ले जा सकती है।

गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार से NIA पूछताछ कर रही है। मंगलवार को दिनदहाड़े हुए तालिबानी मर्डर (कन्हैयालाल हत्याकांड) के बाद उदयपुर प्रशासन ने एहितयातन शहर में कर्फ्यू लगाया था।
गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार से NIA पूछताछ कर रही है। मंगलवार को दिनदहाड़े हुए तालिबानी मर्डर (कन्हैयालाल हत्याकांड) के बाद उदयपुर प्रशासन ने एहितयातन शहर में कर्फ्यू लगाया था।
उदयपुर में बुधवार को बाजार बंद रहे। गुरुवार को भी जयपुर-उदयपुर बंद का ऐलान किया गया है। जयपुर में इसको लेकर हिंदू संगठनों की बैठक भी हुई।
उदयपुर में बुधवार को बाजार बंद रहे। गुरुवार को भी जयपुर-उदयपुर बंद का ऐलान किया गया है। जयपुर में इसको लेकर हिंदू संगठनों की बैठक भी हुई।

मजिस्ट्रेट लगाए गए
उदयपुर शहर में हत्याकांड के बाद डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ताराचंद मीणा ने एक आदेश जारी कर विभिन्न थाना क्षेत्रों में कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं।

जयपुर में गुरुवार को बंद बुलाया गया है। सुबह से ही शहर के बाजार बंद हैं। एहतियात के तौर पर 1 हजार पुलिस जवानों का जाब्ता तैनात किया गया है।
जयपुर में गुरुवार को बंद बुलाया गया है। सुबह से ही शहर के बाजार बंद हैं। एहतियात के तौर पर 1 हजार पुलिस जवानों का जाब्ता तैनात किया गया है।
जैसलमेर में भी हिंदू संगठनों की ओर से बंद रखा गया है। गुरुवार सुबह से ही शहर के बाजार बंद रहे।
जैसलमेर में भी हिंदू संगठनों की ओर से बंद रखा गया है। गुरुवार सुबह से ही शहर के बाजार बंद रहे।

बुधवार को किया गया कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार
बुधवार सुबह कन्हैयालाल का पोस्टमॉर्टम हुआ था। इसके बाद शव गोवर्धन विलास स्थित घर ले जाया गया। जहां से अशोक नगर शवदाह गृह में उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस बीच कन्हैया के परिवार ने सरकार से आरोपियों को फांसी देने और परिवार को सुरक्षा देने की बात कही है।

अजमेर में तीन गिरफ्तार
मौन जुलूस की शर्तों का उल्लंघन करने और भाषण से लोगों को उकसाने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दरगाह प्रभारी दलवीर सिंह ने बताया कि वीडियो फुटेज के आधार पर पुलिस ने गुरुवार को खादिम मोहल्ला निवासी खादिम फखर जमाली, फूल गली निवासी ताजीम और गुजरात निवासी रियाज को गिरफ्तार किया है। वहीं, अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। मामला 17 जून का है।

ये भी पढ़ें-

अमेरिका की FBI की तरह पावरफुल NIA:आतंकवाद से जुड़े मामले डील करती है, 93% सक्सेस रेट, इसलिए दी कन्हैयालाल केस की जांच

कन्हैयालाल के परिजनों के लिए देश-दुनिया से मदद:12 हजार लोगों ने 24 घंटे में ही जुटा दिए एक करोड़ रुपए

उदयपुर में हत्यारों ने पहले भी लोगों को भड़काया था:दाढ़ी पर हाथ लगा तो पुलिसवाले का पुतला फूंका, प्रदर्शन के लिए उकसाया

उदयपुर में तालिबानी मर्डर का पाकिस्तान कनेक्शन:रियाज और गौस ने 15 दिन कराची में मौलाना से ट्रेनिंग ली, 8 से 10 नंबरों पर बात की

14 दिन न्यायिक हिरासत में रहेंगे कन्हैया के हत्यारे:3 दिन राजसमंद के 3 अलग-अलग थानों में रखा, कोर्ट पहुंचे आरोपी पांव से चल ही नहीं पाए