पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur Police Will Soon Take UP, Many Shocking Secrets Came To The Fore In The Interrogation; Income Tax Inspector And Teacher Also Accused Sonu

मुन्नाभाई 5 दिन के रिमांड पर:जल्द यूपी लेकर जाएगी उदयपुर पुलिस, पूछताछ में कई चौंकाने वाले राज आये सामने; इनकम टैक्स इंस्पेक्टर और टीचर भी रह चुका आरोपी सोनू

उदयपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस पकड़ में आरोपी साेनू जाट। - Dainik Bhaskar
पुलिस पकड़ में आरोपी साेनू जाट।

उदयपुर में सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा के दौरान पकड़े गए फर्जी परीक्षार्थी को 5 दिन के पीसी रिमांड पर भेजा गया है। पुलिस ने मंगलवार दोपहर बाद आरोपी सोनू जाट को न्यायालय में पेश किया। अब पुलिस आरोपी के हवाले से नकल गिरोह के मास्टर माइंड तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। वहीं, पूछताछ में भी आरोपी से चौंकाने वाले कई राज सामने आए है।

थानाधिकारी भवानी सिंह राजावत ने बताया कि सोमवार को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय भूपालपुरा से आरोपी को हिरासत में लिया। आरोपी के कब्जे से ब्लूटूथ डिवाइस भी जब्त की गई, जिसमें अलग-अलग 2 सिम भी लगी थी। आरोपी सोनू ने सिर पर विग के अंदर डिवाइस को लगाकर कान मे इयरफोन लगा रखा था। आरोपी डिवाइस की मदद से गिरोह के अन्य सदस्य से सवाल पूछ रहा था। बेहद शातिराना अंदाज में आरोपी प्रश्न पत्र से जटिल प्रश्नों को पढ़ रहा था। आगे से ऑनलाइन सवालों के जवाब ढूंढकर उसे बताए जा रहे थे।

पुलिस टीम के साथ आरोपी साेनू।
पुलिस टीम के साथ आरोपी साेनू।

राजावत ने बताया कि आरोपी सोनू पढ़ाई-लिखाई में काफी तेज है। पहले भी कांस्टेबल और एलडीसी भर्ती परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी बनकर नकल करते पकड़ा जा चुका है। दो नकल गिरोह के मामलों में भी पहले से आरोपी के खिलाफ मुकदमे दर्ज है।आरोपी पहले इनकम टैक्स में इंस्पेक्टर, बैंक पीओ और टीचर भी रह चुका है। दो बार पकड़े जाने के बाद आरोपी को सरकारी सेवा से निकाल दिया गया। कम समय में ज्यादा कमाने के लालच में आरोपी यूपी के कई नकल गिरोह के सरगनाओं से संपर्क में था। आरोपी सामान्य दिनों में पढ़ाई करता था और एग्जाम के दिनों में 2 या 3 एग्जाम देकर लाखों रुपए कमा लेता। अब तक आरोपी अलग अलग काम मे 8 से ज्यादा अभ्यर्थियों को पास भी करवा चुका है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी की एक गिरोह के सरगना से बात हुई और सौरभ नाम के अभ्यर्थी बनकर उदयपुर में परीक्षा देने की डील हुई। इस पेपर की एवज में आरोपी ने 8 लाख रुपए में बात फाइनल की। यूपी के एक व्यक्ति ने आरोपी को ब्लूटूथ डिवाइस मुहैया करवाया। पुलिस टीम आरोपी सोनू को साथ लेकर अब कल यूपी रवाना होगी, जहां गिरोह के मास्टरमाइंड सहित अभ्यर्थी सौरभ से भी पूछताछ होगी।

खबरें और भी हैं...