पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जायजा:अस्पतालों में आग बुझाने के यंत्रों के वॉल्व खराब, पंप भी ऑटो मोड पर नहीं

उदयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सूरत सहित देश के कई अस्पतालों और कोरोना वार्डों में आगजनी की घटना के बाद उदयपुर में बिजली निगम व अापदा प्रबंधन टीम ने जांची हकीकत

हाल ही सूरत सहित देश के कुछ अस्पतालों और काेराेना वार्ड में आग लगने की घटनाएं हाेने पर साेमवार काे उदयपुर में भी नगर निगम की आपदा प्रबंधन टीम ने अस्पतालों की व्यवस्था देखी। हर जगह काेई न काेई कमी नजर आई। निगम आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ के निर्देश पर चीफ फायर ऑफिसर राकेश व्यास और उनकी टीम ने एमबी अस्पताल, सुपर स्पेशियलिटी विंग, काेविड वार्ड, जनाना अस्पताल, ईएसआईसी हॉस्पिटल और गीतांजलि अस्पताल में फायर फाइटिंग सिस्टम की हकीकत देखी। अधिकांश जगह पंप ऑटाे माेड पर नहीं थे, जबकि यह सबसे जरूरी है। कुछ जगह नाेजल और वाल्व खराब थे।

व्यास ने बताया कि निरीक्षण में सभी जगह छोटी-बड़ी खामियां मिली हैं, जिन्हें तुरंत सुधारने के निर्देश दिए हैं। बड़ी खराबी 24 घंटे में ठीक करने काे कहा है। निरीक्षण के दौरान पीडब्ल्यूडी और अस्पताल प्रबंधन के अधिकारी भी मौजूद रहे। आयुक्त बारहठ ने बताया कि अस्पताल प्रशासन काे लिखित में भी चेताया है कि समय रहते व्यवस्था सुधार ली जाएं। किसी समय आग लगी ताे सभी जिम्मेदार हाेेंगे। निगम की टीम मंगलवार काे भी अस्पतालों का निरीक्षण करेगी।

खबरें और भी हैं...