पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ज्योतिष गणना:59 साल बाद 9 फरवरी को चंद्रमा के मकर में प्रवेश से 6 ग्रह एक ही राशि में

प्रतापगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • षड्ग्रही योग बनने से राजनीति में उथल-पुथल, प्राकृतिक आपदा-महंगाई बढ़ने का अनुमान

आगामी 9 फरवरी को मकर राशि में 6 ग्रह एक साथ मौजूद रहेंगे। मकर राशि में ग्रहों की यह स्थिति 59 साल बाद बन रही है। इसके पूर्व 1962 में मकर राशि में छह ग्रहों की युति हुई थी। ज्योतिषाचार्य अशोक शास्त्री के अनुसार यह षड्ग्रही (गोल) योग कहलाता है।

वैसे तो यह योग मौसम पर विपरीत असर डालने वाला होता है, परंतु कोई बड़ी राजनीतिक उथल-पुथल की भी संभावना है। इसकी वजह मकर राशि में इस योग का बनना एक शताब्दी में दो या तीन बार ही होना संभव होता है। गत 24 जनवरी से शनि स्वयं इस राशि में गोचर कर रहे हैं। यह शनि के अधिपत्य वाली ही राशि है।

गत 20 नवंबर को बृहस्पति भी इस राशि में पहुंच गए थे। क्रमश: बुध सूर्य व शुक्र का भी इस राशि में प्रवेश हुआ। इससे शनि की मकर राशि में पंचग्रही युति बनी। अब 9 फरवरी की रात 8.30 बजे चंद्रमा भी इसमें शामिल होंगे। इससे षड्ग्रही योग बनेंगे, जो काफी महत्वपूर्ण रहेगा।

किसानों के लिए संघर्ष का समय, शिक्षा-धर्म के क्षेत्र में दिखेंगे सकारात्मक परिणाम
शास्त्री ने बताया कि छह ग्रहों की यह युति मौसम पर सर्वाधिक असर डालेगी। पश्चिमी व उत्तरी क्षेत्रों में मौसम में यकायक परिवर्तन होंगे। यह परिवर्तन जन स्वास्थ्य को हानि पहुंचाने वाले होंगे। देश दुनिया में अप्रत्याशित परिणाम देखने को मिलेंगे।

किसानों व व्यापारियों के लिए यह समय संघर्ष का रहेगा, जबकि धर्म, अध्यात्म व शिक्षा के क्षेत्र में सकारात्मक परिणाम दिखाई देंगे।

सरकार की ओर से इन क्षेत्रों में कई लाभकारी योजनाओं की घोषणा होगी और इसका लाभ भी लोगों को मिलता दिखाई देगा। महिलाओं के लिए यह युति सम्मान बढ़ाने वाली होगी। विभिन्न क्षेत्रों की महिलाओं को कई बड़े पद हासिल हो सकते हैं, वहीं कलाकारों के रुके काम पूरे होंगे और आर्थिक लाभ होगा। रोजगार के अवसर भी खुलेंगे।

पहले भी 6 ग्रहों की युति हुई थी : वर्ष 1962 में भी सूर्य, शुक्र, केतु, गुरु, शनि व बुध की युति बन चुकी है। इसके कारण चीन के साथ युद्ध की स्थिति बनी थी। दिसंबर 2019 में भी पंचग्रही योग बना था, तब से अब तक देश-दुनिया वैश्विक कोरोना संक्रमण का संकट झेल रही है।
11 को मौनी अमावस्या और 19 को नर्मदा जयंती मनेगी : इस महीने के व्रत त्योहारों में 16 फरवरी को बसंत पंचमी रहेगी। विद्यालयों में देवी सरस्वती का पूजन होता है। इसके पहले 11 फरवरी को मौनी अमावस्या का स्नान पर्व है। श्रद्धालु तीर्थ में स्नान करेंगे। 19 को नर्मदा जयंती व 24 को विश्वकर्मा जयंती होगी। 27 को पूर्णिमा होगी, इसी दिन रविदास जयंती मनेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें