पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छोटीसादड़ी से खबर:एंबुलेंंस चालक नहीं वसूल सकेंगे अधिक राशि, किराया तय किया, कमेटी करेगी निगरानी

प्रतापगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • छोटीसादड़ी से उदयपुर-भीलवाड़ा के 2500 और अहमदाबाद के 6000 रुपए लगेंगे

नगर में प्राइवेट और निजी एंबुलेंस संचालकों द्वारा मनमानी पूर्वक मरीजों से अवैध वसूली की शिकायतें मिलने के बाद मंगलवार को उपखंड अधिकारी विनोद मल्होत्रा ने एंबुलेंस संचालकों की बैठक ली। बैठक में एंबुलेंस के प्रभावी संचालन के लिए उनकी अध्यक्षता में चिकित्साधिकारी डॉ. विजय कुमार गर्ग सचिव, सदस्य गोपाल शर्मा, मनीष उपाध्याय, नरेन्द्र राव मराठा, सदस्य कांतिलाल दक की कमेटी गठित की। कमेटी की निगरानी में विभिन्न शर्तों पर एंबुलेंस का संचालन किया जाएगा। साथ ही हरीश आंजना ट्रस्ट और महावीर इंटरनेशनल की एंबुलेंस को प्रथम प्राथमिकता दी जाएगी। ट्रस्ट द्वारा निर्धारित किराया दर पर ही एंबुलेंस संचालन करेंगे। निजी एंबुलेंस रोटेशन आधार पर चलेंगी।

एंबुलेंस में ऑक्सीजन सुविधा लेने पर 200 रुपए अतिरिक्त देने होंगे

बैठक में मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में लाने ले जाने के लिए एसडीएम ने किराया भी तय किया है। छोटीसादड़ी से उदयपुर, भीलवाड़ा का किराया 25 सौ रुपए व मय वापसी 3000 रुपए, ऑक्सीजन 200 रु. अतिरिक्त। जयपुर, अहमदाबाद का किराया 6000 व मय वापसी 7000 रुपए, ऑक्सीजन 500 रु अतिरिक्त। चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़ किराया 1000 रुपए व मय वापसी 15 सौ रुपए, ऑक्सीजन 200 रु. अतिरिक्त।

निंबाहेड़ा किराया 700 रुपए व मय वापसी 900 रुपए, ऑक्सीजन 200 रु अतिरिक्त। नीमच का किराया 600 रुपए व मय वापसी 800 रुपए, ऑक्सीजन 200 रु. अतिरिक्त। इनके अलावा अन्यत्र जाने पर 9 रुपए प्रति किमी तथा एसी चलाने पर एक रुपए प्रति किमी अतिरिक्त चार्ज निर्धारित किया गया। एसडीएम ने एंबुलेंस संचालकों को निर्देश दिए कि वे एंबुलेंस में ऑक्सीजन से भरा सिलेंडर तथा आरटीओ स्वीकृति सहित सभी

आवश्यक कागजात अपने पास रखेंगे। एंबुलेंस चालक लॉग बुक का संधारण करेंगे, रसीद बुक रखेंगे, मरीज के परिजनों को रसीद अनिवार्य रूप से देगें। एंबुलेंस मालिक व चालक द्वारा मरीज को रेफर के लिए सरकारी हॉस्पिटल में ले जाएंगें व मरीज के परिजन के कहने पर ही अन्य प्राइवेट हॉस्पिटल में ले जाएंगे। साथ ही मरीज के परिजन जहां मरीज को ले जाना चाहते हैं, वहां की रसीद मय हस्ताक्षर देंगे। स्टाफ के अलावा सभी प्रकार की एंबुलेंस हॉस्पिटल के बाहर खड़ी रहेंगी। केवल कोविड-19 से संबंधित एक गाड़ी हॉस्पिटल परिसर में खड़ी रहेगी। नगर पालिका द्वारा सभी एंबुलेंस का बोर्ड संधारित किया जाएगा तथा नगर पालिका

द्वारा नम्बरिंग सूची जारी की जाएगी। शहरी क्षेत्र में निशुल्क तथा ग्रामीण क्षेत्र में 300 रुपए में छोड़ना होगा। मृतक का शव उसके परिजनों के शहरी क्षेत्र स्थित निशुल्क घर छोड़ा जाएगा। ग्रामीण क्षेत्र में 300 रुपए का किराया तय किया है। इस दौरान किसी भी तरह की लापरवाही होने पर एंबुलेंस मालिक व चालक की जिम्मेदारी रहेगी। कोई बड़ा हादसा, घटना घटित होने पर मरीज के रेफर की स्थिति में केवल डीजल का वहन किया जाएगा। सदस्य सचिव समय-समय पर एंबुलेंस में मेडिकल सुविधाओं का निरीक्षण करेंगे। एंबुलेंस चालक रेट लिस्ट अपने वाहन में रखेंगे।

खबरें और भी हैं...