बुवाई के कार्य में हो रही परेशानी:दिन का पारा 10 कम होकर 30 पर और रात का 1.50 कम होकर 12 पर आया

प्रतापगढ़22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नवंबर की शुरुआत के साथ ही तापमान में लगातार कमी दर्ज की जा रही है। दिन का तापमान जहां शुक्रवार के मुकाबले शनिवार काे 1 डिग्री कम होकर 30 डिग्री पर पहुंच गया है, वहीं रात का तापमान भी अब शुक्रवार के मुकाबले शनिवार को 1.5 डिग्री कम होकर 12 डिग्री अा गया। इससे रात में सर्दी का तेज एहसास होने लगा है। सुबह और शाम सर्दी का असर बना रहता है। दीपावली से लगातार तापमान कम हुआ है। शनिवार को दिन में बादल छाए रहे, जिससे बारिश जैसा मौसम हो गया। मौसम को देखकर किसानों के चेहरों पर मायूसी छा गई।

रबी की फसल को लेकर किसान इन दिनों खेतों में जुताई कर रहे हैं। ऐसे में अगर अब बारिश होती है तो नुकसान की अाशंका है। अवलेश्वर कस्बे सहित आसपास क्षेत्र में मौसम परिवर्तन का दौर चल रहा है। रात के समय तेज सर्दी के कारण फसलों की बुवाई कर पाना भी मुश्किल हो रहा है। किसान इन दिनों खेतों में गेहूं, लहसुन, चना, मैथी की फसल की बुवाई करने में लगे हुए हैं। जिसके लिए मौसम खुला रहे तो फसलों की बुवाई सही तरीके से हो सकेगी। यदि बारिश आ गई तो फिर फसलों की बुवाई करने में लेट हो सकते हैं।

धरियावद में हवा परिवर्तन होने एवं आसमान में बादल छाए रहने के कारण तापमान कम होने के साथ सर्दी का असर बढ़ गया। दिनभर शीतलहर चलने के साथ सर्दी का अहसास बना रहा व आमजन को गर्म कपड़े पहनने के लिए मजबूर कर दिया। सुबह से आसमान में बादल छाए रहे, जो दोपहर 3 बजे के बाद घने हो गए। इससे ठंड का असर बढ़ गया।

बादल छाने से बुजुर्गों को काफी परेशानी हुई। सर्दी का असर बढ़ने से ठिठुरन बढ़ गई व धूप में खड़े रहकर सर्दी से बचाव करते रहे। दोपहर तक धूप खिलने पर कुछ हद तक राहत मिली, लेकिन 3 बजे के बाद बादल छा गए और सर्दी का अहसास बढ़ गया। जिले भर में शीतलहर का असर शुरू हो चुका है। इस कारण लोग अब जगह-जगह अलाव तापते भी नजर आने लगे हैं। नवंबर की शुरुआत के साथ की सर्दी का एहसास भी काफी तेज हुआ है।

खबरें और भी हैं...