मौसम:वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते कई जगह हुई बारिश, यह फसलों के लिए फायदेमंद, अब बढ़ेगी ठंड

प्रतापगढ़/धरियावद/अवलेश्वर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दिसंबर के आखिर से अब तक प्रदेश में दाे वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव हुए हैं। इन्हीं के कारण अलग-अलग हिस्सों में बारिश हुई। तीसरी बार फिर वेस्टर्न डिस्टरबेंस आने से दिन के तापमान में गिरावट आएगी। गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी जिले में बारिश हुई। गुरुवार देर रात बूंदाबांदी हुई, जबकि शुक्रवार दोपहर 3:00 बजे तेज बारिश शुरू हुई, जो करीब 40 मिनट तक चली। इसके बाद रुक रुक कर बरसात होती रही।

इस वजह से रात के तापमान में सीधे ही 5.5 डिग्री गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को दिन का पारा 23 डिग्री से बढ़कर 27 डिग्री तथा रात्रि का पारा 17.5 डिग्री से घटकर 12 डिग्री होना दर्ज किया गया। तेज धूप निकलने और बादलों की वजह से इस सप्ताह में दिन का पारा शुक्रवार को सबसे अधिक रहा।

मौसम विभाग के अनुसार 10 जनवरी से बादल छंटते ही दिन के पारा में बढ़ोतरी होगी और न्यूनतम पारा में गिरावट आएगी। कृषि वैज्ञानिकों की मानें तो इन दिनों खेत में सरसों सहित अधिकतर फसलों को पानी की जरूरत है। बारिश ने किसानों के चेहरे पर खुशी ला दी है। इसी समय फसल को एक बार पानी की जरूरत होती है। यह बारिश रबी फसलों के लिए वरदान मानी जार ही है।

अब आगे क्या : मौसम विभाग के अनुसार अब तीसरा बड़ा वेस्टर्न डिस्टरबेंस शुक्रवार से सक्रिय हो गया है, जिसका असर 9 जनवरी तक रहेगा। ऐसे में सूरज 10 जनवरी से अपने तेवर दिखा सकता है। इस दौरान बादलों की आवाजाही ठिठुरन का एहसास बढ़ाती रहेगी। इन दिनों एक के बाद एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस आ रहा है। शुक्रवार के बाद शनिवार को भी नए डिस्टरबेंस के कारण राज्यभर में तेज बारिश हो सकती है, जबकि रविवार को कुछ हिस्सों में बारिश होगी। तीन दिन बाद 10 जनवरी से प्रदेश के सभी जिलों में धूप खिलेगी।

खबरें और भी हैं...