पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पंचायत समिति:बिजली निगम मनमर्जी के बिल भेज रहा, हैंडपंप मरम्मत के लिए सामग्री ही नहीं

दलोट2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई विभागों के अधिकारी नहीं आने से जनप्रतिनिधियों ने जताई नाराजगी

पंचायत समिति दलोट की साधारण सभा की पहली बैठक नव निर्वाचित प्रधान श्यामा मीणा की अध्यक्षता में हुई। इस अवसर पर प्रधान ने कहा कि नई पंचायत समिति बनी है। सभी मिलकर पेयजल, सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि पर ध्यान देकर समस्याओं का निराकरण करेंगे। बैठक में विभिन्न विभागों और उनके अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों ने खरी-खरी सुनाई। पंचायत समिति सदस्य सालमगढ़ कल्पना आहरी ने पेयजल समस्या का मुद्दा उठाया और हर गांव में सीसी रोड बनाने की मांग की। उन्होंने कहा कि रोजगार का पैसा समय पर नहीं मिलता है। बिजली निगम बिना रीडिंग मनमर्जी के बिल थमाकर उपभोक्ताओं से लूट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हैंडपंप मरम्मत के लिए सामग्री नहीं मिलती है।

बीटीपी समर्थक पंचायत समिति सदस्य तोलाराम भाट भंवरिया और लक्ष्मण मीणा ने पीडब्ल्यूडी और बिजली निगम अधिकारियोें को खरीखोटी सुनाई। उन्होंने चेतावनी दी कि पहले जो होता आया है, वह अब नहीं चलेगा। सरपंच बांसलाई रतन लाल मीणा ने काला पानी से लालाखेड़ी होकर नैनोर तक डामर सड़क के निर्माण की मांग की। उन्होंने कहा कि यह सड़क करीब 12 साल पूर्व बनी। तब से अब तक न तो मरम्मत की गई है और न ही गड्ढों को भरा गया है। ऐसे में यह सड़क अब आवागमन के लायक नहीं रही है। ऐसे में सड़क को शीघ्र ही दुरुस्त कराया जाए।

उन्होंने नई ग्राम पंचायत होने से भवन की कमी, चिकित्सा केंद्र बनवाने के साथ स्कूल को भी हायर सेकंडरी में क्रमोन्नत करने की मांग रखी। उठेल सरपंच मनीषा मीणा ने काला पानी से उठेल डामर सड़क वर्षों पहले बनी थी, उसे दुरुस्त करवाने को कहा। भाट खमरिया सरपंच मांगीलाल ने ग्राम पंचायत में स्वास्थ्य केंद्र बनाने, तारा घाटी और अजंदा में पेयजल व्यवस्था और सड़क निर्माण की मांग रखी। सालमगढ़ सरपंच चंद्रिका मीणा ने गौतमेश्वर से सालमगढ़ रोड पर पेचवर्क कराने की मांग की, जिससे आवागमन सुगम हो सके।

सरपंचों ने पोषाहार अक्टूबर से नहीं आने की बात कहते हुए इसे शीघ्र उपलब्ध कराने को कहा। पहली बैठक में कई विभागों के अधिकारी मौजूद नहीं थे। ऐसे में जनप्रतिनिधियों की अधिकांश समस्याओं पर चर्चा और समाधान नहीं हो पाया। बैठक में उप प्रधान बिजेंद्र सिंह ने सभी जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से नई बनी दलोट पंचायत समिति में विकास के नए आयाम स्थापित करने की बात कही।

बैठक ग्राम पंचायत दलोट के हाल में रखी गई जो बहुत ही छोटा था, उसमें करीब 60 लोगों के बैठने की जगह है जबकि सरपंच और अधिकारी कुल मिलाकर 80 के लगभग थे। ऐसे में कई जनप्रतिनिधियों को कुर्सी नहीं मिलने से वह दरवाजे पर खड़े रहे या बाहर घूमते रहे। बैठक व्यवस्था सही नहीं होने से आगे बैठे अधिकारी और जनप्रतिनिधियों की आवाज पीछे तक सुनाई नहीं दे रही थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें