पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खस्ताहाल सड़कें:हे राम...गड्ढों में सड़कें, पानी पर तैर रहे पुल....

प्रतापगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिलेभर की सड़कें उखड़ी, 6-7 बारिश में ही खुली घटिया निर्माण की पोल, ग्रामीण कई किमी का लगा रहे फेर

अन्य जिलों के स्थान पर प्रतापगढ़ में अच्छी बारिश होती है। इसके मद्देनजर ही यहां की सड़कें बनाई जाती है, क्योंकि पानी से डामर जल्दी खराब होता है। लेकिन अधिकारियों की अनदेखी के चलते आलम यह है कि मात्र 6-7 अच्छी बारिश में ही सड़कों का दम निकल गया है। सड़कें जगह-जगह से छलनी होने के साथ ही दर्जनों पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

सैकडों ग्रामीणों का सड़क और पुलिया टूटने से संपर्क कट गया है। ऐसे में उन्हें कई किमी का फेर लगाकर गंतव्य तक पहुंचना पड़ रहा है। इतना होने के बावजूद अधिकारियों को ग्रामीणों की समस्याओं से कोई सरोकार नहीं है। प्रतापगढ़ शहर में वेलोसिटी और मालवा कॉलोनी की सड़क गड्ढों में तब्दील हो गई है। यही हाल शहर के सूरजपोल चौकी से अंदर की ओर वेलोसिटी की ओर जाने वाली सड़क का है।

इन सड़कों पर बने गड्ढों में बारिश का पानी भरने से हालत बदतर हो जाती है। करीब 8 माह पूर्व करीब 12 लाख रुपए की लागत से बनाई गई वेलोसिटी की सड़क पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है। यही हाल नीमच नाका के पास सेंचुरी मॉल की बगल से मालवा कॉलोनी का है। इस सड़क पर भी जगह जगह गड्ढे हो गए हैं। ऐसे में इन गड्ढों में बारिश का पानी भरने से कई दोपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो गए हैं।

स्थिति यह है कि मुख्य मार्ग से जगदीश मेंशन तक पैदल चलना भी दूभर है। इस मार्ग पर बारिश का पानी भरने पर करीब 4 घंटे तक राहगीरों को पानी उतरने का इंतजार करना पड़ता है। दूसरी ओर बड़ीसाखथली, अवलेश्वर, घंटाली और धरियावद के ग्रामीणों ने बताया कि सड़क और पुलिया निर्माण के दौरान ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण की शिकायत भी अधिकारियों से की जाती है, लेकिन वर्षों से चले आ रहे सिस्टम के अनुसार अधिकारी काेई कार्रवाई नहीं करते है।
तेज बारिश से पुलिया बह गई

बड़ीसाखथली. नवगठित ग्राम पंचायत मुख्यालय भाट भमरिया को जोड़ने वाला एक मात्र सड़क मार्ग है। इस मार्ग पर बरसाती नाले पर करीब 15 वर्ष पूर्व बनी पुलिया गत दिनों आई तेज बारिश में बह गई।
घंटाली : कई रपट और पुलिया बहीं

पीपलखूंट उपखंड क्षेत्र में इस बार तेज बारिश के चलते कई रपट और पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई। तेज बारिश से घंटाली, पीपलखूंट, अरनोद, दलोट, माही डेम को जोड़ने वाली सड़कें भी पानी से उखड़ गई और सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए। इन गड्ढों से गुजरने के दौरान कई दोपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो चुके हैं। सबसे ज्यादा पीपलखूंट से घंटाली होकर सालमगढ़, घोड़ीतेजर मार्ग पूरी तरह खराब हो चुका है। नरुखेडा, घंटाली बाजार से आगे हेरापाड़ा में सड़क पर एक-एक फीट के गड्ढे हो गए।

कहां-कहां खराब हैं सड़कें
प्रतापगढ़ मंदसौर मार्ग पर अवलेश्वर तक 1 किलोमीटर तक, अवलेश्वर नई आबादी से छात्रावास तक आधा किलोमीटर सड़क, सोनपुर से गंधेर सड़क, अवलेश्वर से बजरंगगढ़, बरोठा, कुलथाना की सड़क के अलावा मोखमपुरा से डाबड़ा, मगरोडा की पूरी तरह क्षतिग्रस्त है।

पीडब्ल्यूडी के अधीन जो भी सड़कें हैं, उन सभी को चिन्हित किया जा रहा है। बारिश के बाद एस्टीमेट बनाकर उच्चाधिकारियों को भेजा जाएगा। फिलहाल बजट की समस्या चल रही है। हालांकि बारिश से पहले भी कई सड़कों पर पेचवर्क कराया था। जो सड़कें और पुलियाएं क्षतिग्रस्त हो गई हैं उनकी बारिश के बाद मरम्मत कराई जाएगी।
राजकुमार सिंह चौहान, अधीक्षण अभियंता, पीडब्ल्यूडी, प्रतापगढ़।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें