दीपोत्सव:घरों में शुभ मुहूर्त में हुई लक्ष्मी पूजा, दूसरे दिन चला गोवर्धन पूजा और रामा-श्यामा का दौर

प्रतापगढ़23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिलेभर में 4 और 5 नवंबर को 2 दिनों तक दीपावली की धूम रही। दो साल तक कोरोना के कारण फीकी रहने वाली दीपावली पर इस बार बाजार भी खूब सजा और घरों से लेकर मंदिरों तक पूजा-अनुष्ठान का दौर चला। बाजार में तो हालात कुछ ऐसे रहे कि 4 और 5 नवंबर को देर शाम तक बाजार खुले रहे और लोग खरीदारी करते नजर आए। छुट्टी के बावजूद बाजार ने भी ग्राहकों का दिल खोलकर स्वागत किया और दुकानदारों ने कहीं पर रात 10 तो कहीं पर रात 11 बजे तक दुकानें खुली रखीं। शुभ मुहूर्त में 4 नवंबर को लक्ष्मी जी की पूजा-अर्चना की गई और उसके बाद पटाखों का शोर सुनाई देना शुरू हो गया।

देर रात तक पटाखे फूटते रहे और इसी दौरान मंदिरों में भी सजावट के साथ लोग पूजा-अर्चना करने के लिए पहुंचने लगे। शहर के प्रगति नगर स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर पर विशेष साज-सज्जा और पूजा-अर्चना की गई। मंदिर समिति के राजेंद्र बंसल ने बताया कि मंदिरों में सुबह 8 मूर्ति अभिषेक, लक्ष्मी पूजन 11 बजे के पश्चात आरती का आयोजन हुआ। 5 नवंबर शुक्रवार को 11 बजे अन्नकूट का आयोजन, दोपहर 12 बजे महाआरती के बाद दोपहर 12:30 बजे प्रसादी वितरित की गई। इसके बाद 6 नवंबर को गोवर्धन पूजा भी बड़े धूमधाम के साथ मनाया गया और एक-दूसरे के घर जाकर रामा श्यामा की गई। शहरों से लेकर खेतों में और गांव में गोवर्धन पूजा के साथ फसली उत्सव मनाया गया। महिलाओं ने घर के बाहर रंगोली सजाई और गोबर से गोवर्धन बनाकर पूजा-अर्चना कर मनोकामनाएं मांगी।

खबरें और भी हैं...