पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उपलब्धि:भारत सरकार का ‘लक्ष्य’ हासिल करने में कामयाब हुआ जिला अस्पताल

प्रतापगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य में गुणवत्ता पूर्ण सेवाएं देने पर लक्ष्य सार्टिफाइड हुआ जिला अस्पताल, 93 प्रतिशत स्कोर किया हासिल

आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र प्रतापगढ़ का जिला चिकित्सालय एक और तमगा हासिल करने में कामयाब हुआ है। मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य में गुणवत्ता पूर्ण सेवाएं देने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दिए जाने वाला सार्टिफिकेट ‘लक्ष्य’ मिला है। इससे चिकित्सा विभाग के कर्मिकों में उत्साह का माहौल है।

गौरतलब है कि मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के सुदृढ़ीकरण के लिए भारत सरकार की ओर से 2017 में शुरू किए गए लक्ष्य कार्यक्रम के तहत लेबर रूम और ऑपरेशन थियेटर (ओटी) में गुणवत्ता पूर्ण सेवाएं प्रदान की है। भारत सरकार द्वारा करवाए गए निरीक्षण में प्रसव कक्ष में सपूर्ण प्रबंधन एवं स्वास्थ्य सेवाओं में 93 प्रतिशत स्कोर हासिल किया है।

जिसके बाद राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अपर सचिव एवं मिशन निदेशक वंदना गुरनानी ने राजस्थान के प्रतापगढ़ को लक्ष्य का प्रमाण पत्र एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. वीडी मीणा ने बताया कि कलेक्टर रेणु जयपाल के नेतृत्व में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के लिए लेबर रूम में स्वच्छता प्रबंधन, संक्रमण प्रबंधन, क्लिनिकल सेवाओं सहित व अन्य सेवाओं में गुणवत्ता कार्य में उच्चतम स्कोर लाकर जिला अस्पताल ने सफलता हासिल की है।

जिला अस्पताल में सुविधाओं के विकास के लिए 3 लाख मिलेंगे, लेबर रूम की व्यवस्थाएं सुदृढ़ होंगी

यह जिले के लिए एक बड़ी उपलब्धि : सीएमएचओ

यह जिले के लिए एक बड़ी उपलब्धि है, कलेक्टर के नेतृत्व में हमने सुविधाओं को पहले से भी और बढ़ाया है। इससे मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य की गुणवत्ता पूर्ण सेवाओं के प्रति आमजन में और विश्वास बढ़ेगा। हम सभी का प्रयास होगा कि हम इसकी गुणवत्ता को ऐसे ही बनाए रखें।

-डॉ. वीडी मीना, सीएमएचओ, प्रतापगढ़

​​​​​​​स्टाफ काे प्राेत्साहन राशि मिलेगी : आरसीएचओ

​​​​​​​यह नई योजना है। इसमें केंद्र सरकार की टीम द्वारा जिला चिकित्सालय की सुविधाओं में विस्तार के लिए करीब 3 लाख रुपए का निर्धारण किया जाना प्रस्तावित है। इसके अलावा चिकित्सकों और स्टाफ को भी व्यक्तिगत रूप से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

डॉ. दीपक मीणा, आरसीएचओ, प्रतापगढ़।

जिला चिकित्सालय के पीएमओ डॉ. ओपी दायमा ने बताया कि लक्ष्य प्रमाण पत्र हासिल करने के बाद जिला अस्पताल को सेवाओं और सुविधाओं के विकास के लिए मदद दी जाएगी। जिससे लेबर रूम की व्यवस्थाएं सुदृढ़ होंगी और आवश्यक संसाधनों की कमी भी पूरी होगी। जिला अस्पताल के लक्ष्य हासिल करने में चिकित्सा निदेशालय के परियोजना निदेशक मातृ स्वास्थ्य डॉ. तरूण चौधरी एवं समन्वयक डॉ. प्रदीप सिंह सिनसिनवार ने राज्य स्तर से जिला चिकित्सालय के लक्ष्य सार्टिफाइड में अहम भूमिका निभाई।

वहीं जिला स्तर पर सीएमएचओ डॉ. वीडी मीना, पीएमओ डॉ. ओपी दायमा, आरसीएचओ डॉ. दीपक मीणा, जिला चिकित्सालय के एमसीएच विंग के प्रभारी डॉ. धीरज सेन एवं जनाना विभाग प्रभारी डॉ. लखपत सिंह मीणा, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. कमलेश रावल, डॉ. धर्मिष्ठा मईड़ा, डॉ. मनीष शर्मा एवं ओटी इंचार्ज डॉ. आर के सुखाड़िया, दक्षता मेंटर दिनेश गुर्जर, ओटी नर्सिंग प्रभारी अशोक मीणा के साथ एमसीएचओ विंग प्रभारी के सभी अधिकारियों, नर्सिंग कर्मियों के साथ प्रबंधन से जुड़े सभी कर्मियों का योगदान विशेष रूप से रहा।

खबरें और भी हैं...