रात को करता था भैंस की चोरी:भैंस चोर दिन में रैकी करते व रात को वारदात, तीन गिरफ्तार, पिकअप जब्त

राजसमंद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चारभुजा थाना क्षेत्र में 6 महीने में 10 भैंसें चुरा ले गए थे आरोपी

चारभुजा थाना क्षेत्र में लगातार हाे रही चाेरियाें के खुलासे के लिए बनाई टीम ने जांच करते हुए 6 माह पहले 10 भैंसों की चाेरी करने के अाराेप में गुरुवार काे तीन बदमाशाें काे गिरफ्तार किया। वहीं एक पिकअप काे भी जब्त किया। आराेपियाें ने लांबाेड़ी से 10 भैंस और एक पाड़ी काे चाेरी करना कबूला। वहीं दिवेर थाना के कुंवाथल क्षेत्र के सांसरिया से भी भैंस चाेरी करना कबूला है।

थानाधिकारी भंवानी शंकर ने बताया कि जेमाखेड़ा देवगढ़ निवासी हनुमान उर्फ बजरंग 34 पुत्र रामलाल नायक, माेतीसर पुष्कर अजमेर निवासी सुरेश पुत्र लाला नायक, साैपुरा हाल चितांबा भीलवाड़ा रमेश पुत्र नाथूलाल नायक काे गिरफ्तार किया। चारभुजा थाने में बढ़ रही चोरी, लूट, डकैती और नकबजनी के प्रकरणों को ट्रेस आउट करने के लिए अलग-अलग टीमों का गठन किया।

इसमें एएसआई जसवंतसिंह, कांस्टेबल लक्ष्मण, श्रवणकुमार ने लांबाेड़ी में 19 फरवरी 2021 को पांच भैंसें चोरी होने तथा 25 अपर्ैल 2021 को 5 भैंसें व एक पाड़ी चोरी होने पर जांच दिवेर, देवगढ़, बदनाैर, करेड़ा, चितांबा, ब्यावर, नसीराबाद, पुष्कर, मोतीसर, भीलवाड़ा, जेमाखेड़ा, रामगढ़-जयपुर सहित स्थानों पर थाने से नियुक्त टीम ने भैंसों की तलाश की और कई लोगों व संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ कर जानकारी ली। इस पर संदिग्ध हनुमान उर्फ बजरंग नायक को डिटेन कर पूछताछ की गई।

हनुमान अपने भाई बनवारी एवं साथी पीरु पुत्र लाला नायक सहित अन्य साथी साैपुरा भीलवाड़ा निवासी मंगलाराम पुत्र रघुनाथ नायक एवं सुरेश पुत्र लाला नायक निवासी मोतीसर पुष्कर जिला अजमेर ने दोनों वारदात करना पाया तथा आराेपियाें ने दिन के समय गांव लाम्बोडी में रैकी कर रात में 10 भैंसे और 1 पाडी को खोलकर वहां से पैदल, पैदल मवेशियों को गैर कर गांव से बाहर निकालकर करीब एक किमी दूर खड़ी पिकअप में भरकर ले गए। 19 फरवरी को चुराई 5 भैंसों को सीधे पिकअप मे भरकर रामगंज मंडी जयपुर ले जाकर बेच दिया।

दूसरी बार 25 अप्रैल को चोरी की गई भैंसों को उसी पिकअप से ले जाकर रमेश नायक को ले जाकर बेच दी। आराेपी लांबाेड़ी के मांगीलाल गुर्जर की 25 अप्रैल 2021 रात 11 बजे के बाद लाम्बोडी में बाड़े से दो भैंस, 2 भैंसें घासीराम गुर्जर की व राजू गुर्जर की 1 भैंस व एक पाड़ी बाड़े से खाेलकर ले गए।

खबरें और भी हैं...