वारदात:लापस्या के युवक ने इंदौर में प्रेमिका के पति की करवाई हत्या, आराेपी सहित पांच गिरफ्तार

राजसमंदएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • देवास के अमलतास हॉस्पिटल में नर्सिंग हेड है आराेपी, प्रेमिका एचआर में करती थी काम

एमपी के इंदौर में बीपीओ आकाश मेडकिया हत्याकांड में चाैंकाने वाला खुलासा हुआ है। हत्या के आराेपियाें ने पूछताछ में पुलिस को बताया है कि हत्या करवाने वाला देवास अमलतास अस्पताल का नर्सिंग हेड और उसका दाेस्त है। आकाश काे पत्नी के प्रेम प्रसंग का पता चला ताे प्रेमी काे अस्पताल जाकर धमकाया था। अपमान का बदला लेने के लिए हत्या की साजिश रची थी।

पुलिस ने मामले में लापस्या, राजसमंद निवासी नर्सिंग हेड मनीष शर्मा, उसकी प्रेमीका वृतिका सहित इंदाैर देवास के अमलतास हॉस्पिटल के हाउस कीपिंग इंचार्ज जितेंद्र लीलाधर वर्मा, अर्जुन मंडलोई, और उज्जैन के अंकितसिंह पंवार काे गिरफ्तार किया। लापस्या के मनीष ने प्रेमिका वृतिका के पति आकाश से अपमानित होने के बाद उससे बदला लेने की साेचकर अपने दोस्त जितेंद्र से सहायता मांगी। मनीष का कहना था कि अगर वह बदला नहीं ले सका, तो नौकरी छोड़कर चला जाएगा। इसके बाद जितेंद्र ने प्लानिंग की। जितेंद्र ने देवास के ही परिचित अर्जुन और अंकित को हत्या के लिए तैयार किया।

वृतिका ने प्रेमी काे मिस काॅल कर अलर्ट किया, रास्ते में चाकू मारकर की हत्या

उज्जैन निवासी आकाश ने वृतिका के साथ डेढ़ साल पहले लव मैरिज की थी। परिवार इसके खिलाफ था। बाद में मान गया था। दंपती उज्जैन से इसी साल जनवरी में इंदौर में वाल्मीकि नगर में रहने आए थे। 13 अक्टूबर की सुबह आकाश पत्नी वर्तिका को बस स्टॉप पर छोड़कर घर लौट रहा था। तभी हमलावराें ने चाकू घाैंपकर आकाश की हत्या कर दी।

वृतिका देवास के अमलतास हॉस्पिटल के एचआर विभाग में काम करती है। वहीं उसी अस्पताल में लापस्या निवासी मनीष शर्मा नर्सिंग हेड पद पर कार्यरत था। मनीष और वृतिका में अवैध संबंध थे। आकाश को जब इसका पता चला तो उसने देवास पहुंचकर मनीष को पत्नी से दूर रहने का कहा था। मनीष ने आकाश को सबक सिखाने के लिए अस्पताल के कर्मचारी जितेंद्र और वृतिका के साथ मिलकर सबक सिखाने की साजिश रची।

किसी को शक न हो, इसलिए आकाश के मर्डर से पहले मनीष लापस्या अा गया था। उसने अर्जुन और अंकित को बाइक, मोबाइल और चाकू उपलब्ध करा दिया था। आकाश का फोटो दिखाकर उसकी पहचान कराई थी। हमला करने के एक दिन पहले अर्जुन और अंकित सरवटे बस स्टैंड पर आकर रुक गए थे।

सुबह वृतिका ने घर से निकलने से पहले मनीष शर्मा को मिस कॉल किया था, ताकि हमलावर तैयार हो जाएं। जब वृतिका को बस में बैठाकर आकाश लौटने लगा, तभी हमलावरों ने उसकी आंख में मिर्च डालकर चाकू मारे। मनीष और वृतिका पर शक न हो, इसके लिए हमला करते समय लेन-देन के रुपए लौटाने की बात की।

राजनगर थाना की कार्रवाई : चाकूबाजी के आराेप में 6 युवकाें काे किया गिरफ्तार

राजसमंद | राजनगर थाना क्षेत्र में सौ फीट रोड स्थित हाेटल देव हेरिटेज के पास शनिवार दाेपहर दाे गुटाें के बीच चाकूबाजी के मामले में 6 युवकाें काे गिरफ्तार कर मंगलवार काे न्यायालय में पेश किया, जहां से सभी काे जेल भेज दिया।

थानाधिकारी डाॅ. हनुवंतसिंह ने बताया कि संताेषी नगर कांकराेली निवासी शाहरुख 21 पुत्र जब्बार हुसैन शाह, सिलावटवाड़ी राजनगर थाने के पीछे निवासी अमान उर्फ अम्मी रोटी 22 पुत्र मजुंर हुसैन सिलावट, 100 फीट राेड महावीरनगर निवासी कैफ कुरैशी 18 पुत्र अफजल कुरैशी, चांदपाेल दरवाजे के बाहर कांकराेली निवासी माेहम्मद रजा खान 23 पुत्र इब्राहिम अली पठान, आजाद नगर जल चक्की कांकरोली निवासी आबिद रजा 19 पुत्र मकबुल हुसैन व इस्माइल उर्फ झाडु 18 पुत्र इब्राहिम खान पठान काे गिरफ्तार किया। आराेपियाें काे एसटी-एससी एक्ट की धाराओ में भी गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया।

यह था मामला : 16 अक्टूबर रात काे देव हैरीटेज के पास राजनगर निवासी चिराग कोटवाल (22) पुत्र पुष्करलाल धोबी घर के पास उसके भाई व अन्य मित्रों के साथ खड़ा था। तभी कैफ कुरैशी, अमान खान उर्फ अम्मा रोटी व अन्य युवकों ने हमला कर दिया। युवक के लहूलुहान होने व चीखने पर हमलावर फरार हो गए। आराेपियाें और चिराग के बीच शुक्रवार काे किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी। उसी रंजिश के चलते कैफ कुरैशी ने हमला कर दिया।

अवैध संबंधाें के शक में कांकराेली थाने के हिस्ट्रीशीटर काे चाकू मारा, उदयपुर रेफर

राजसमंद | कलेक्टरी कार्यालय व कलेक्टर निवास के बीच जेके गार्डन में मंगलवार शाम को एक युवक ने अवैध संबंधों की शंका के चलते कांकराेली थाने के हिस्ट्रीशीटर काे चाकू मार दिया। घटना में घायल युवक काे आरके अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उदयपुर रेफर कर दिया।

राजनगर थानाधिकारी डाॅ. हनुवंतसिंह ने बताया कि जल चक्की भील मंगरी निवासी कांकराेली थाने के एचएस शाकिर उर्फ शाकरिया पुत्र महबूब हुसैन काे राजनगर निवासी दीपक कुमार पुत्र मदनलाल गवारिया, विशाल उर्फ बाशी, अभिषेक ने मिलकर चाकू मार दिया। घटना के बाद पुलिस प्रशासन ने टीमाें का गठन कर दीपक की तलाश शुरू की।

खबरें और भी हैं...