• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Rajsamand
  • Seven year old Twin Brother, Who Went Missing From The Courtyard Of The House In Sayo Ka Kheda, Two Days Ago, The Family Had Registered A Case Of Kidnapping, The Police Investigating The Murder

घर से लापता हुए भाइयों के शव कुएं में मिले:2 दिन पहले घर में खेल रहे 7 साल के जुड़वा भाई 1 किमी दूर जंगल के कुएं में मिले, पुलिस का दावा- हत्या कर शवों को यहां फेंका गया

राजसमंद3 महीने पहले
कुंए में मिले मासूम जुड़वा भाइयों के शव।

खमनोर थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत सांयो का खेड़ा की वगा की वेर से 2 दिन पहले लापता हुए जुड़वा भाइयों के शव शनिवार को कुंए में मिले। जिस कुएं में बच्चों के शव मिले हैं, वो घर से 1 किलोमीटर दूर है। पुलिस ने शव को कुएं से निकालकर खमनोर अस्पताल पहुंचाया, जहां मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने बच्चों के शव परिजनों को सौंपे, लेकिन परिजनों ने शव लेने से इनकार कर दिया। फिलहाल अस्पताल में लोगों की भीड़ जमा है। उधर पुलिस ने प्रथम दृष्टया हत्या का मामला मानते हुए जांच शुरू कर दी है। घर के आंगन में खेलते हुए लापता हुए बच्चों के परिजनों ने पुलिस में अपहरण का मामला दर्ज करवाया था।

कुएं से निकाले गए बच्चों के शव।
कुएं से निकाले गए बच्चों के शव।

पुलिस ने बच्चों की तलाश के लिए शनिवार को उदयपुर से डॉग स्क्वायड टीम को बुलाया, जिसने घर सहित आसपास के जंगल मे तलाशी शुरू की। करीब 2 बजे के आसपास पुलिस की टीम बयान माता मंदिर के आसपास बच्चों को ढूंढने का प्रयास कर रही थी। इस दौरान पहाड़ी से उतरते समय कुछ गांव वाले दूसरे रास्ते से तलाश करते हुए आ रहे थे। इस दौरान उन्होंने दोनों बच्चों के शव कुएं में तैरते दिखे। एएसपी शिवलाल बैरवा ने बताया कि बच्चों के लापता होने के दौरान परिजनों ने अपहरण का मामला दर्ज करवाया था। प्रथम दृष्टया मामला हत्या का लग रहा है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

जंगल क्षेत्र में स्थित कुआं, जिसमें बच्चों के शव मिले थे।
जंगल क्षेत्र में स्थित कुआं, जिसमें बच्चों के शव मिले थे।

ग्रामीणों ने किया था प्रदर्शन
गुरुवार दोपहर लापता हुए जुड़वा भाइयों का 2 दिन बाद भी कोई सुराग नहीं मिलने पर ग्रामीणों ने शनिवार को सुबह पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जताते हुए प्रर्दशन किया था। ग्रामीण सुबह 9 बजे से बस स्टैंड पर जुटे। ग्रामीणों ने गांव की सभी दुकानें बंद कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को शाम 5 बजे तक बच्चों को ढूंढ़ने का आश्वासन देते हुए सड़क से हटाया। इस दौरान लोगों ने कहा कि बच्चों की तलाश करने में पुलिस लापरवाही बरत रही है।

ग्रामीणों ने सुबह प्रदर्शन किया था।
ग्रामीणों ने सुबह प्रदर्शन किया था।

यह है मामला
ग्राम पंचायत सांयो का खेड़ा के वागा की वेर निवासी बालू सिंह के दो जुड़वां बेटे तंवर सिंह (7) और भूपेंद्र सिंह (7) गुरुवार दोपहर को दोपहर 3 बजे घर के आंगन में खेलते हुए लापता हो गए थे। मां चांदनी बाई ने आसपास तलाश की, लेकिन बच्चों का पता नहीं चला। इसके बाद खमनोर थाने में अपहरण का मामला दर्ज करवाया गया। बच्चों के लापता होने की जानकारी मिलने पर बालू सिंह घर पहुंचा। जो जोधपुर में हलवाई का काम करता है।

खबरें और भी हैं...