• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajsamand
  • Shrinath Peeth: The Governor Did The Ground Worship And Foundation Stone Of The Center Of Excellence, The Building Will Be Ready By July 2022

24 एकड़ में बनेगी MLSU की दूसरी बिल्डिंग:राज्यपाल ने रखी श्रीनाथ पीठ की नींव, जुलाई 2022 तक बनकर होगी तैयार

राजसमंद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्यपाल ने किया श्रीनाथ पीठ:सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का शिलान्यास। - Dainik Bhaskar
राज्यपाल ने किया श्रीनाथ पीठ:सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का शिलान्यास।

मोहनलाल सुखाड़िया यूनिवर्सिटी उदयपुर के दूसरे भवन का भूमि पूजन और शिलान्यास कार्यक्रम गुरुवार दोपहर को हुआ। नाथद्वारा के बिलोता गांव में 24 एकड़ जमीन पर बनने वाले श्रीनाथ पीठ:सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की नींव राज्यापाल कलराज मिश्र ने विधि विधान से पूजन के साथ रखी। समारोह में विधानसभा अध्यक्ष और नाथद्वारा विधायक डॉ सीपी जोशी, उच्च शिक्षा मंत्री राजेंद्रसिंह यादव, जिला प्रभारी मंत्री उदयलाल आंजना, महाराणा मेवाड़ चेरिटेबल फाउंडेशन के लक्ष्यराजसिंह मेवाड़, श्रीनाथजी मंदिर के तिलकायात राकेश महराज के प्रतिनिधी सुधाकर शास्त्री और एमएलएसयु के कुलपति प्रोफेसर अमेरिकासिंह मौजूद थे। यह परिसर यूनिवर्सिटी के नार्थ कैम्पस के तौर पर जाना जाएगा।

राज्यपाल कलराज मिश्र ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज के दौर में नवाचार के माध्यम से कौशल विकास किया जाए, शिक्षा सीधे रोजगार से जुड़ जाएगी। शिक्षा में अकादमिक कार्यों के साथ ही संस्थागत विकास और विस्तार बहुत जरूरी है और इस परिसर का विस्तार इसी का एक हिस्सा है। यूनिवर्सिटी अपने अधीन ऐसे केंद्र विकसित करें, जो युवाओं में सकारात्मक ऊर्जा का निर्माण करते हो, क्योंकि शिक्षा ही राष्ट्र का निर्माण करती है। महिला यूनिवर्सिटी खोलने की बात पर राज्यपाल ने प्रसन्नता जाहिर की और कहा कि महिलाएं सृजनकर्ता होती है, संवेदनशीलता की प्रतिमूर्ति होती है। महिलाओं के विकास से ही राष्ट्रीय का विकास संभव है।

कार्यक्रम में मौजूद मंच पर मौजूद राज्यपाल, स्पीकर, मंत्री और अन्य गणमान्य लोग।
कार्यक्रम में मौजूद मंच पर मौजूद राज्यपाल, स्पीकर, मंत्री और अन्य गणमान्य लोग।

विधानसभा अध्यक्ष जोशी ने कहा कि आज एजुकेशन में एक्सटेंशन के बारे में सोचने व चिंतन करने का समय आ गया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी और कई नए विषयों के बारे में ग्रामीण युवाओ को बताना बहुत जरूरी है। ग्रामीण जनता आज भी नए विषयों और नई जानकारियों से वंचित रहती है, उनके लिए सरल जानकारी परक पाठ्यक्रम बनाया जाए। जोशी ने कहा कि नाथद्वारा क्षेत्र में भी बड़ा आदिवासी समाज है, लेकिन आज तक उन्हें टीएसपी का लाभ नहीं मिल पाया। उन्होंने राज्यपाल से आग्रह किया कि इस क्षेत्र के आदिवासियों को भी टीएसपी क्षेत्र का लाभ दिया जाए ताकि उनके रोजगार का नया सृजन हो सके।

कार्यक्रम में प्रस्तुति देती छात्राएं।
कार्यक्रम में प्रस्तुति देती छात्राएं।

कुलपति प्रो अमेरिका सिंह ने सभी अतिथियों का पगड़ी और उपरना पहना कर स्वागत किया। प्रो. सिंह ने कहा कि आज जिस परिसर का उद्घाटन हुआ है, इसमें विभिन्न प्रकार के नवाचारों से युक्त रोजगार परक पाठ्यक्रम शुरू किए जाएंगे। वल्लभ दर्शन, मंदिर प्रबंधन, हवेली संगीत, पिछवाई कला, ज्योतिष सहित भागवत दर्शन के कई कोर्स संचालित होंगे। यहां एक श्रीनाथ गैलरी भी बनाई जाएगी। वल्लभ दर्शन पर आधारित लाइव शो शुरू किया जाएगा। कौशल विकास केंद्र खोला जाएगा, जिसमें करीब 25 रोजगार परक पाठ्यक्रम शुरू होंगे। कुलपति ने घोषणा की कि इस नए कैम्पस की शुरुआत अगले साल जुलाई 2022 में कर दी जाएगी।

कार्यक्रम में मौजूद स्कूल की छात्राएं।
कार्यक्रम में मौजूद स्कूल की छात्राएं।

कार्यक्रम में लक्ष्यराजसिंह मेवाड़ ने कहा कि देश मे बालिका शिक्षा की शरुआत सबसे पहले 150 वर्ष पूर्व मेवाड़ में ही हुई थी और आज यहीं पर यूनिवर्सिटी के नए परिसर का शिलान्यास होना गौरव और उपलब्धि की बात है। उच्च शिक्षा मंत्री राजेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि यह गौरव का विषय है कि एमएलएसयु निरन्तर नवाचार कर रहा है। नए पाठ्यक्रम शुरू किए जा रहे है, यह शुभ संकेत है और नए भविष्य की शुरुआत है। सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कुलपति से आग्रह किया कि निम्बाहेड़ा में भी यूनिवर्सिटी का परिसर प्रस्तावित है, वहां भी इसी तरह का भव्य आयोजन राज्यपाल और मुख्यमंत्री के सान्निध्य में किया जाए। उन्होंने कहा कि सीपी जोशी जैसे विद्वान शिक्षाविद और राजनेता के आशीर्वाद से क्षेत्र का चहुंमुखी विकास हो रहा है और इस नए परिसर का विस्तार उन्हीं की सकारात्मक सोच का परिणाम है।

खबरें और भी हैं...