ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पहल:राजसमंद पर्यटन दर्शिका, शॉर्ट फिल्म और गाना बनाया, विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने किया विमोचन, जिले के सभी पर्यटन स्थलों पर फोकस

राजसमंद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीडी और डॉक्यूमेंट्री फोल्डर का विमोचन करते हुए सीपी जोशी। - Dainik Bhaskar
सीडी और डॉक्यूमेंट्री फोल्डर का विमोचन करते हुए सीपी जोशी।

राजसमंद जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी की प्रेरणा से कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल के मार्गदर्शन में सीईओ जिला परिषद निमिषा गुप्ता द्वारा अभिनव पहल की गई। सीईओ गुप्ता ने पर्यटकों को जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के पर्यटन स्थलों की तरफ आकर्षित करने के लिए एक लघु फिल्म, राजसमंद पर्यटन दर्शिका और गीत का निर्माण साउंड एंड वेब्ज एंटरटेनमेंट के सहयोग से करवाया गया। जिसे विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी व अन्य ने इस गीत को सराहा। गाने में स्वर मनोज पोड़वाड़, डॉ. आनंद श्रीवास्तव और सपना सनाढ्य आदि ने दिया है।

उन्होंने कहा कि जिले में ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए गीत तैयार किया गया है। इसमें जिले की सभी पंचायत समितियों के ग्रामीण पर्यटन स्थलों पर फोकस किया गया है। प्रयास यही है कि जिले में आने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों को ग्रामीण जनजीवन और गांव की मिट्टी का अहसास कराया जा सके। उन्होंने कहा कि यह सही है कि ग्रामीण परिवेश व संस्कृति को जानने और समझने के लिए पर्यटक उत्साहित रहते हैं। इसलिए ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राजसमंद पर्यटन दर्शिका तैयार की गई है। जिससे राजसमंद में आने वाले पर्यटक यहां की कला-संस्कृति, वेशभूषा, रहन-सहन और ग्रामीण क्षेत्रों के पर्यटन स्थलों से परिचित हो सकेंगे।

पर्यटन दर्शिका में जिले के यह पर्यटन स्थल
राजसमंद झील, नौ-चौकी, इरिगेशन पाल, पैराग्लाइडिंग, बोटिंग, हेलिकॉप्टर द्वारा जॉयराइड सेवा, द्वारकाधीश मंदिर, पिपलांत्री, मार्बल माइंस, श्रीनाथ मंदिर नाथद्वारा, मोलेला आर्ट, नंदसमंद, बाघेरी नाका बांध, राणा पुंजा स्मारक मचिंद, रक्त तलाई खमनोर, शाहीबाग, हल्दीघाटी, चेतक समाधी, महारणा प्रताप स्मारक, लाखेला तालाब, कुंभलगढ़ दुर्ग व जंगल सफारी, हमेरपाल, वेरो का मठ, परशुराम महोदव मंदिर, आमज माता मंदिर, चारभुजा मंदिर गढ़बोर, श्रीराम दरबार व लक्ष्मण झूला, श्रीरूपनारायण मंदिर सेवंतरी, गोरमघाट, महाराणा प्रताप विजय स्मारक दिवेर, महाबलिदानी पन्नाधाय पेनोरमा कमेरी, श्रीजल देवी माता मंदिर, श्रीसूरजबारी माताजी, द्वारकाधीश मंदिर सादड़ी, देलवाड़ा जैन मंदिर को शामिल किया गया है।

इस दौरान कलेक्टर अरविंद कुमार पोसवाल, रेलमगरा प्रधान आदित्य प्रताप सिंह, उपखण्ड अधिकारी मनसुख डामोर, विकास अधिकारी भुवनेश्वरसिंह चौहान, तहसीलदार ईश्वरलाल खटीक, सहायक विकास अधिकारी गिरिराज आगाल सहित जिला परिषद सदस्य, पंचायत समिति सदस्य और सरपंच मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...