जंगल में मिली लाश की हुई शिनाख्त:जंगली जानवर ने नोच रखे थे मुंह और हाथ-पैर, पहचान के बाद पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंपा

राजसमंद22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक नारायणलाल खटीक। - Dainik Bhaskar
मृतक नारायणलाल खटीक।

राजसमंद के केलवा थाना क्षेत्र के दाता का देवरा की वनी में दीपावली को मिले शव की पहचान हो गई है। लाश को जंगली जानवरों ने नोच रखा था। पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवाकर परिजनों की तलाश की। शुक्रवार देर शाम परिजनों ने हॉस्पिटल जाकर मृतक की पहचान की। इसके बाद शनिवार को पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। पुलिस प्रथम दृष्टया जंगली जानवर (तेंदुए) के हमले से मौत होना मान रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और एफएसएल रिपोर्ट आने के बाद ही मामले का खुलासा हो पाएगा।

केलवा थानाधिकारी ने प्रवीण सिंह ने बताया कि केलवा के चारणों की खाली निवासी नारायण लाल खटीक (55) पुत्र वक्तावर खटीक की जंगल में मौत हो गई थी। बकरियां चराने वाले ने दीपावली के दिन सुअर को शव नोचते हुए देखा। उसने गांव में लोगों को शव के बारे में सूचना दी। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उदयपुर से एफएसएल टीम को बुलाया था।

पुलिस ने मृतक की शिनाख्त के लिए आसपास के इलाकों में तलाश शुरू की। इस दौरान घर से लापता नारायण के परिजन पुलिस के पास पहुंचे और हॉस्पिटल में मृतक के भतीजे दिनेश खटीक ने शव की पहचान की। पुलिस ने शनिवार को शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। थानाधिकारी ने बताया कि मृतक की शादी करीब 20 वर्ष पूर्व हुई थी, लेकिन शराब पीने के कारण पत्नी उसे छोड़कर चली गई। इसके बाद से मृतक होटल दुकानों पर काम करता था और अपने भाई के साथ ही रहता था। वह दीपावली के 2 दिन पहले से घर नहीं गया था।

जंगल में मिली अज्ञात की लाश:शरीर के अंगों और मुंह को पूरी तरह नोचा, तेंदुए के हमले से मौत मान रही पुलिस

खबरें और भी हैं...