पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काेराेनाकाल में तीसरी बार दर्शन पर फिर विराम:13 माह के काेराेनाकाल में श्रीजी मंदिर में तीसरी बार श्रद्धालुओं का प्रवेश बंद

नाथद्वारा/राजसमंद12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

श्रीनाथजी मंदिर में 17 मइर् तक दर्शनार्थियाें का प्रवेश बंद रहेगा। निज मंदिर में प्रभु की सेवा-पूजा नित्य नियम के अनुसार पहले की तरह चलती रहेगी, लेकिन दर्शनाें में श्रद्धालुओं के लिए पट बंद रहेंगे। 17 मई तक के लिए लागू हुई नइर् सख्ती काे लेकर यह निर्णय लिया है। मंदिर में उन्हीं सेवादारों को प्रवेश मिलेगा, जाे सेवाकार्य से जुड़े हैं।

मंदिर मंडल के सीईओ जितेंद्र ओझा ने बताया कि 17 मई तक श्रीनाथजी प्रभु, नवनीतप्रियाजी और मदनमोहनजी सहित मंदिर मंडल से संचालित अन्य धार्मिक स्थलाें अष्टयाम सेवा क्रम यथावत जारी रहेगा और परंपरानुसार दर्शन केवल अंदर ही खुलेंगे। आम दर्शनार्थियों से घर में ही रहने और सामाजिक दूरी बनाने की अपील की गई है। संक्रमण से सतर्कता के उपाय और नए आदेश के बाद मंदिर नक्कारखाना गेट से पहले बने लाल दरवाजे को एहतियात के लिए बंद कर दिया गया है।

इससे लाल दरवाजा और नक्कारखाना गेट के बीच चाैक के आसपास की दुकानें भी बंद हो गई। लक्ष्मी विलास गेट को भी बंद कर दिया गया है। दर्शनार्थियाें के लिए पाबंदियाें के दाैरान श्रीजी प्रभु को परंपरानुसार नित-नियम का भोग अरोगाया जाएगा। वैष्णवजनों के नहीं आने से मंगल भोग, राजभोग, शयन भोग या अन्य मनोरथ नहीं होने पर परंपरानुसार नित-नियम का भोग अरोगाया जाएगा।

ऑनलाइन भेंट स्वीकार हाेगी : मंदिर मंडल के सीईओ ओझा ने बताया कि वैष्णवजन ऑनलाइन भेंट कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वैष्णव बैंक खाते या खुद उनके कार्यालय में आकर नगद या अन्य भेंट कर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि काेराेना संक्रमण बढ़ने से गुजरात, महाराष्ट्र सहित देशभर से वैष्णवाें का आना लगभग बंद हाे चुका है।

ऐसे में शहर में मंदिर मंडल की तरफ से संचालित काॅटेज, धर्मशालाएं और होटलें खाली हैं। मंदिर मंडल की ओर से संचालित न्यू काॅटेज, दामोदरधाम में एक भी वैष्णव की बुकिंग नहीं है। शहर में निजी होटलें भी खाली हो गई है।

काेराेनाकाल में तीसरी बार मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश बंद
पिछले मार्च से अब तक के काेराेनाकाल में श्रीनाथजी मंदिर में तीसरी बार श्रद्धालुओं का प्रवेश राेक दिया गया है। इससे पहले पिछले साल लाॅकडाउन में देशभर के मंदिराें के साथ श्रीनाथजी मंदिर भी बंद रहा था। पिछले साल दीपावली के आसपास मंदिर के पट दर्शनार्थियाें के लिए खुले थे। इसके बाद दीपावली के दाे दिन दर्शन बंद रहे थे। इसके बाद हाेली के दाैरान भी मंदिर में आम श्रद्धालुओं काे दर्शन नहीं दिया था।

काेराेनाकाल में मंदिर मंडल ने ऐहतियात के लिए व्यवस्थाओं में कई बदलाव किए हैं। मंदिर में दर्शन की व्यवस्था कई बार बदली है। रेलिंग लगाने के साथ ही पिछले दिनाें काेराेना प्रभावित राज्याें से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए 72 घंटे पहले करवाई काेराेना जांच की निगेटिव रिपाेर्ट लाना अनिवार्य कर दिया था।

मंदिर से जुड़ा है शहर का बाजार, एक साल से ठप
नाथद्वारा में अधिकांश लाेगाें का व्यापार श्रीनाथजी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं से जुड़ा हुआ है। मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं से ही यहां का व्यापार चलता है। काेराेनाकाल के चलते पिछले एक साल से यहां का व्यापार ठप पड़ा हुआ है। फरवरी में बाहर से श्रद्धालुओं का आना शुरू हुआ था, मार्च के अंत में फिर कम हाे गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें