• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Rajsamand
  • There Was No Arrangement Of Tinshed At The Cremation Ground, The Villagers Performed The Last Rites Of The Old Woman In The Rain, Anger Among The Villagers, 20 Liters Of Oil And 30 Kg Of Sugar Had To Be Cremated

श्मशान में बरसात में भीगती लकड़ियां:अंतिम संस्कार करने में आती परेशानी,टीन शेड और बैठने का इंतजाम भी नहीं,ग्रामीणों ने की व्यवस्था सुधारने की मांग

राजसमंद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टिनशेड के अभाव में बारिश में अंतिम संस्कार करते हुए। - Dainik Bhaskar
टिनशेड के अभाव में बारिश में अंतिम संस्कार करते हुए।

राजसमंद विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत घाटी के राजस्व गांव खेमाखेडा के श्मशान घाट पर टिनशेड नहीं होने से बारिश के बीच खुले में शव का अंतिम संस्कार करना पड़ रहा है। ग्रामीण तिरपाल ढककर अंतिम संस्कार करने को मजबूर है। ग्रामीणों ने बताया कि श्मशान घाट पर टिन शेड लगा हुआ नहीं है। ना ही बैठने की व्यवस्था है।

जानकारी अनुसार शुक्रवार को खेमाखेडा निवासी सोसरबाई गुर्जर की निधन हो गया। क्षेत्र में रिमझिम बारिश के कारण ग्रामीणों ने रूकने का इंतजार किया। बारिश बंद नहीं होने पर बारिश के बीच ही अंतिम संस्कार करने का निर्णय लेना लिया। पहले लकड़ियों को बारिश से भीगने से बचाया गया। इसके बाद तिरपाल ढककर अंतिम संस्कार किया।

ग्रामीण नारायणलाल गुर्जर सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि श्मशान घाट पर न तो टिन शेड और ना ही अंतिम संस्कार करने के लिए कोई व्यवस्था है। बैठने की भी व्यवस्था नहीं है। श्मशान घाट तक जाने वाला रास्ता भी सही नहीं है। बारिश के मौसम में परेशानी का सामना करना पड़ता है। लहरीलाल, शिवलाल, रमेश आदि ग्रामीणों ने ग्राम पंचायत से श्मशान घाट पर टिनशेड,बैठने की व्यवस्था करवाने की मांग की है। ग्रामीणों ने मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी हैं।

खबरें और भी हैं...