बाह में कोर्ट के आदेश पर आठ लोगों पर मुकदमा:मारपीट के मामले में कार्रवाई, पुलिस के सुनवाई न करने पर अदालत की ली थी शरण

बाह, आगरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बाह में थाना पिनाहट क्षेत्र के अंतर्गत गांव पडुआपुरा में चार माह पूर्व दो पक्षों में हुए झगड़े के मामले में पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई करते पीड़ित पक्ष का मुकदमा दर्ज नहीं किया था। जिस पर कोर्ट की शरण ली गई थी। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने 8 आरोपियों पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

श्याम सुंदर पुत्र कल्याण सिंह निवासी गांव पड़ुआपुरा थाना पिनाहट ने न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम आगरा के समक्ष प्रार्थना पत्र लेकर गुहार लगाते हुए आरोप लगाकर मांग की थी कि 4 माह पूर्व 8 जनवरी को सुबह अपने घर पर पशुओं के लिए चारा मशीन से कतर रहे थे। उनका पुत्र मानसिंह घर से पिनाहट बाजार जाने को गांव के अड्डे पर खड़ा था। आरोप है कि वहां पहले से गांव का वीनू उर्फ रामबरन पुत्र किशन सिंह खड़ा हुआ था। जिस पर वह मानसिंह से गाली गलौज करने लगा। जिसे लेकर दोनों में कहासुनी हो गई।

मामला शांत होने पर मानसिंह बाइक से बाजार के लिए जाने लगा जहां कहासुनी को लेकर पहले से रास्ते में घात लगाए बैठे मीनू उर्फ रामबरन, अशोक ,महेश, डब्बू उर्फ विशंभर, राम लखन पुत्रगण किशन सिंह, सोनू, दीपू पुत्रगण राम लखन, विष्णु पुत्र महेश समस्त निवासी गण पडुआपुरा थाना पिनाहट ने एकत्रित होकर मान सिंह की बाइक रोककर लाठी-डंडों से हमला बोल पीटना शुरू कर दिया।

जिस पर पीड़ित पक्ष के मुकेश और आजा बिहारी को पुलिस ने उल्टा थाने में बिठा लिया था। वही पीड़ित पक्ष द्वारा एसएसपी आगरा से भी मामले की शिकायत की गई। मगर कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़ित पक्ष ने मामले को लेकर कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए अर्जी दाखिल की, जिस पर न्यायालय मजिस्ट्रेट प्रथम आगरा के आदेश पर थाना पिनाहट पुलिस ने आरोपी बीनू उर्फ रामबरन, अशोक, महेश, डब्बू उर्फ विशंभर, राम लखन पुत्रगण किशन सिंह, सोनू, दीपू पुत्रगण राम लखन, एवं विष्णु पुत्र महेश निवासी गांव पडुआपुरा थाना पिनाहट 8 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।