हर व्यक्ति में कुछ न कुछ हाेती है विशेष प्रतिभा:बोलीं केबीसी विनर हिमानी बुंदेला, कहा- बस निखारने की जरूरत, दिव्यांगों को किया प्रेरित

बाह, आगरा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर कौन बनेगा करोड़पति की विजेता हिमानी बुंदेला सम्मिलित हुईं। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर कौन बनेगा करोड़पति की विजेता हिमानी बुंदेला सम्मिलित हुईं।

बाह में होलीपुरा के दामोदर इंटर कॉलेज में दिव्यांग बच्चों की शिक्षा और योजनाओं के लिए जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर कौन बनेगा करोड़पति की विजेता हिमानी बुंदेला सम्मिलित हुईं। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद दिव्यांग बच्चों और उनके परिजनों को दिव्यांगों के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

समाज में दिव्यांगों को उपेक्षित दृष्टि से देखा जाता

उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति में कुछ न कुछ विशेष प्रतिभा होती है, जिसे निखारने और अवसर देने की जरूरत होती है। समाज में दिव्यांगों को उपेक्षित दृष्टि से देखा जाता है, जिसके चलते वे हीनभावना से ग्रसित हो जाते हैं। एक एक्सीडेंट में जब उनकी आँखों की रोशनी चली गयी, तब उनको भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा। वे शिक्षा लेने के लिए जिस भी स्कूल में गयीं वहां उनका एडमिशन नहीं हुआ, लेकिन इन सबसे बेपरवाह उनके माता-पिता ने उनकी हौसलाफजाई की। जिससे आत्मविश्वास बढ़ा और उन्होंने भी कुछ करने की ठानी। आज केंद्रीय विद्यालय में शिक्षिका हैं। जिन विद्यालयों ने उनको प्रवेश लेने से मना किया था वे आज विद्यालयों में उनके बड़े-बड़े पोस्टर लगाकर बच्चों को प्रेरित कर रहे हैं।

दामोदर इंटर कॉलेज में दिव्यांग बच्चों की शिक्षा और योजनाओं के लिए जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।
दामोदर इंटर कॉलेज में दिव्यांग बच्चों की शिक्षा और योजनाओं के लिए जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।

बच्चों को शिक्षा दिलाने की शपथ दिलाई

हिमानी बुंदेला ने अभिभावकों को अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने की शपथ दिलाई। अधिकारियों के मोबाइल नम्बर दिलवाए। कार्यक्रम में विकास खंड के विभिन्न गांवों से आये दिव्यांगों के प्रमाण पत्र बनाये गए। उन्हें उपकरण वितरित किये गए। विशिष्ट अतिथि प्रतिमा किशोर सीनियर टेक्नीशियन एक्सपर्ट इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ, कमिश्नर अमित गुप्ता, सीडीओ मणिकन्दन, खण्ड शिक्षा अधिकारी अमरनाथ, जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, खंड विकास अधिकारी और एडीओ पंचायत आदि रहे।