रसायनों के साथ कंपोस्ट को देना होगा बढ़ावा:फतेहपुर सीकरी में बोले किसान नेता, कहा-युवाओं को आना होगा आगे

फतेहपुर सीकरी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

फतेहपुर सीकरी में केंद्र सरकार की एमएसपी कमेटी के सदस्य कृष्ण वीर चौधरी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने किसानों की स्थिति और उनके हितों पर खुलकर बातचीत की। युवाओं से भी आगे आने की अपील की।

रविवार को उन्होंने पत्रकारों से बातचीत की। कहा कि उत्पादक और उपभोक्ता के बीच तालमेल बैठाने के लिए युवाओं को एफपीओ के माध्यम से आगे आना होगा।

रिजर्व प्राइस से किसानों को मिलेगा लाभ

कृष्ण वीर चौधरी ने कहा कि किसानों को एमएसपी नहीं रिजर्व मूल्य की आवश्यकता है। कहा कि एमएसपी का लाभ मात्र 6% किसानों को ही होता है, इसलिए रिजर्व प्राइस की नीति बनानी चाहिए। किसान को रिजर्व प्राइस से अपने उत्पाद का उचित मूल्य मिल सकेगा।

जैविक खेती की ओर बढ़ने की जरूरत

कृष्ण वीर चौधरी ने कहा कि उत्पादकता बढ़ाने के लिए किसानों को रसायन फसल मॉडल को समाप्त करने के लिए रसायनों के साथ कंपोस्ट को बढ़ावा देना होगा। किसान जैविक खेती की ओर बढ़ेंगे तो इसके कई लाभ होंगे। रसायनों के प्रयोग से भूमि की उर्वरता शक्ति खत्म होती जा रही है।

केसीसी के संबंध में कहा कि किसानों को केसीसी के लिए धन का उपयोग कृषि संबंधी कार्यों में ही लेना चाहिए। पौधारोपण और पशुपालन से किसानों को कई लाभ मिलते हैं। कृषि मूल्य लागत आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया जाना चाहिए। प्रत्येक जिले पर मौजूद कृषि विज्ञान केंद्रों को ज्ञान केंद्र बनाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...