खेरागढ़ में स्कूल छोड़ पार्टी करने गया शिक्षामित्र:बोला- बेटे का बर्थडे मनाने गए थे, BSA ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब

खेरागढ़एक महीने पहले

आगरा के खेरागढ़ में एक शिक्षामित्र को बेटे की बर्थडे पार्टी में जाना भारी पड़ गया। बच्चों को पढ़ाने के बजाए वह स्कूल छोड़कर निकल गया। आरोपी शिक्षक ने वीडियो में इस बात को स्वीकार भी किया है। बीएसए ने मामले को संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी कर शिक्षक से जवाब तलब किया है। मामला खेरागढ़ के कम्पोजिट विद्यालय अटा का है।

आगरा से मीडिया की टीम क्षेत्र में जा रही थी। लेकिन किसी सूचना दी कि विद्यालय में अकेले बच्चे बैठे हैं। बच्चों को अकेला बैठे होने की जानकारी पर टीम विद्यालय में पहुंच गई और वहां का नजारा देखकर आश्चर्य में पड़ गई। विद्यालय में अकेले बच्चे थे, टीचर की कुर्सी खाली और मेज पर हथौड़ा रखा था।

प्रधान ने फोन कर दी शिक्षक को जानकारी

विद्यालय में मीडिया के पहुंचने की खबर ग्राम प्रधान को लग गई। जिस पर उसने विद्यालय के शिक्षामित्र भुवनेश शर्मा को कॉल करके जानकारी दे दी। जानकारी पर विद्यालय का अध्यापक आ गया और मीडिया के कैमरों में उसकी सारी बात रिकार्ड हो गई।

स्कूल में कुर्सी खाली पड़ी है और टेबल पर हथौड़ा दिख रहा है। बच्चे भी शिक्षामित्र के इंतजार में बैठे दिख रहे हैं।
स्कूल में कुर्सी खाली पड़ी है और टेबल पर हथौड़ा दिख रहा है। बच्चे भी शिक्षामित्र के इंतजार में बैठे दिख रहे हैं।

टीचर ने खुद कबूल की सच्चाई

सवाल पूछे जाने पर उसने कबूल किया कि पास के विद्यालय में तैनात साथी शिक्षक के बच्चे का जन्मदिन था। इसलिए पार्टी में शामिल होने चला गया। उसके मुंह से बदबू आ रही थी और आंखें चढ़ी हुई थी। इस तरह के मामले से बच्चों के भविष्य का क्या होगा जिसमें शिक्षकों की घोर लापरवाही देखी गई है।

खंड शिक्षा अधिकारी ने दी जानकारी

खंड शिक्षा अधिकारी खेरागढ़ कृष्ण गोपाल तिवारी ने बताया कि आज ललई छठ पर महिला शिक्षकों की सरकारी छुट्टी थी। जिसके कारण अकेला शिक्षामित्र विद्यालय में था। लेकिन विद्यालय समय में छोड़कर जाने का मामला उनके संज्ञान में आ गया है। उसके खिलाफ कल नोटिस जारी करके कार्रवाई अमल में लाई जाएगी

खबरें और भी हैं...