पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आगरा में सांपों की दहशत:घर के दरवाजे पर लटका था 9 फीट का अजगर, एक घंटे की मशक्कत के बाद कोबरा एनजीओ ने कीठम के जंगलों में छोड़ा

आगरा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थाना न्यू आगरा के खंदारी चौराहे के पास कैलाश विहार कॉलोनी निवासी शोभित बंसल के घर के गेट पर लटक रहा था 9 फीट का अजगर। - Dainik Bhaskar
थाना न्यू आगरा के खंदारी चौराहे के पास कैलाश विहार कॉलोनी निवासी शोभित बंसल के घर के गेट पर लटक रहा था 9 फीट का अजगर।

आगरा के थाना न्यू आगरा क्षेत्र में एक घर के दरवाजे पर 9 फीट का अजगर मिलने से दहशत फैल गई। सूचना पर डायल-112 और कोबरा एनजीओ की रेस्क्यू टीम ने आकर रेस्क्यू किया और वन विभाग के अधिकारियों की देख रेख में उसे कीठम जंगल मे छोड़ दिया।

जानकारी के अनुसार थाना न्यू आगरा के खंदारी चौराहे के पास कैलाश विहार कॉलोनी निवासी शोभित बंसल के घर के गेट पर देर रात 9 फीट का अजगर दिखाई दिया। अजगर को देखकर परिवार दहशत में आ गया और जानकारी होने पर कॉलोनी वासी भी डरकर घरों से बाहर निकल आए।

8 किलो वजन और 9 फीट लंबा था अजगर

स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर कोबरा एनजीओ के सेक्रेटरी अंशुल दीप शाह मौके पर पहुंचे। तब तक अजगर गेट से गार्डेन में उतर गया था। टीम ने एक घंटे की मशक्कत के बाद अजगर को रेस्क्यू किया।अंशुल के मुताबिक रेस्क्यू किए गए अजगर का वजन 8 किलो के लगभग है और लंबाई 9 फीट है। अजगर को कीठम के जंगलों में सुरक्षित छोड़ दिया गया है।

बिलों में भर जाता है बारिश का पानी, तब बाहर निकलते हैं सांप

कोबरा एनजीओ के चीफ सेक्रेटरी अंशुल दीप शाह ने बताया कि बारिश का मौसम शुरू हो गया है, ऐसे में सांपों के बिलों में पानी भर जाने के कारण ये जीव सूखी जगह पर अपना ठिकाना ढूंढते हैं और अक्सर अपने भोजन की तलाश में इंसानी बस्तियों और घरों में आ जाते हैं। ऐसी स्थिति में किसी भी सांप को मारना नहीं चाहिए क्योंकि ये पर्यावरण के मित्र होते हैं। इन्हें बचाया जाना बेहद ज़रूरी है।

खबरें और भी हैं...