आगरा...भाई दूज पर जेल के बाहर लगी महिलाओं की भीड़:जिला कारागार में तीन हजार बहनों ने भाइयों को लगाया टीका

आगरा21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आगरा के हाथी घाट, बल्केश्वर घाट व जौहरा बाग घाट पर भाई-बहनों ने एक-दूसरे का हाथ पकड़कर यमुना में डुबकी लगाई। - Dainik Bhaskar
आगरा के हाथी घाट, बल्केश्वर घाट व जौहरा बाग घाट पर भाई-बहनों ने एक-दूसरे का हाथ पकड़कर यमुना में डुबकी लगाई।

भाई दूज पर भाइयों को टीका करने के लिए सुबह से आगरा की जिला और सेंट्रल जेल पर बहनों की भीड़ उमड़ी है। भाइयों को टीका करने के लिए बहनें घंटों से लाइन में लगी हुई हैं। जेल प्रशासन द्वारा नियमों का पालन करते हुए बहनों की भाइयों से मुलाकात कराई जा रही है। वहीं, यमुना घाट पर भाई-बहनों ने यम फांस से मुक्ति के लिए यमुना में स्नान किया।

जिला कारगार पर उमड़ी भीड़

भाई दूज पर आगरा जिला और केंद्रीय कारागार के बाहर सुबह से बहनों की भीड़ उमड़नी शुरू हो गई। जेल के बाहर लंबी लाइन लग गई थी। जिला जेल पर सबसे ज्यादा भीड़ रही। भीड़ के चलते जेल प्रशासन ने विशेष इंतजाम किए थे। टीका करने आई बहनों को लाइन में लगकर प्रवेश मिला। भीड़ के चलते एक से डेढ़ घंटे में नंबर आ रहा था। करीब जेल अधीक्षक पीडी सलौनिया ने बताया कि नियमों के तहत ही प्रवेश दिया गया। दोपहर साढे़ तीन बजे तक करीब तीन हजार बहनें अपने भाइयों को टीका कर चुकी हैं, शाम तक यह संख्या चार हजार तक होने का अनुमान हैं।

वहीं, केंद्रीय कारगार पर भी इसी तरह के हालात रहे। यहां पर दूर-दूर से बहनें आईं। लंबे इंतजार के बाद भाइयों को टीका किया।

जेल में भाइयों को टीका करती बहनें।
जेल में भाइयों को टीका करती बहनें।

यमुना में किया स्नान

भाई दूज पर भाई-बहनों ने यम की फांस से मुक्त होने के लिए यमुना में एक साथ स्नान किया। आगरा के हाथी घाट, बल्केश्वर घाट व जौहरा बाग घाट पर भाई-बहनों ने एक-दूसरे का हाथ पकड़कर यमुना में डुबकी लगाई। वहीं, भाई दूज पर बहनों ने भाइयों को टीका कर उनकी लंबी उम्र की कामना की।