आगरा...पुलिस दौड़ रही, छदामीलाल टहल रहे:सर्राफ के अपहरण के मामले में आया नया मोड़, CCTV में झांसी में घूमते नजर आए

आगराएक महीने पहले

आगरा में अपहृत हुए सर्राफ छदामीलाल वर्मा की कहानी में नया मोड़ आ गया है। शुक्रवार को सर्राफ ने खुद ही अपहरण की सूचना दी थी। उसके बाद उनका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। अब तक मिले साक्ष्यों के आधार पर अपरहण की पूरी कहानी पलट गई है। पुलिस अभी सर्राफ की तलाश में जुटी हुई। सर्राफ पर काफी कर्जा बताया जा रहा है। सर्राफ छदमीलाल वर्मा ने अपने अपहरण की सूचना देकर पुलिस महकमे की नींद उड़ा दी। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने 6 टीमें बनाकर सर्राफ को तलाशने में लगा दिया। अब अपहरण की घटना में नया मोड़ आ गया है। पुलिस को कुछ ऐसे साक्ष्य हाथ लगे हैं जिसमें सारा सच उजागर होता नजर आ रहा है। हालांकि पुलिस ने अभी कोई खुलासा नहीं किया है। सर्राफ के भाई थान सिंह ने बताया कि उन्हें पुलिस ने एक वीडियो दिखाया था, वह झांसी स्टेशन का था। उसमें छदामीलाल वर्मा का चेहरा पहचान में आ रहा है। उसमें वह स्टेशन के बाहर टहलते दिखाई दे रहे हैं।

आगरा में अपने अपहरण की सूचना देने वाले सर्राफ छदामीलाल वर्मा को झांसी स्टेशन पर सीसीटीवी में देखा गया।
आगरा में अपने अपहरण की सूचना देने वाले सर्राफ छदामीलाल वर्मा को झांसी स्टेशन पर सीसीटीवी में देखा गया।

पुलिस की तालाश अभी जारी
एसएसपी सुधीर कुमार ने बताया कि अपहरण की सूचना के बाद पुलिस ने सभी बस स्टैंडों एवं रेलवे स्टेशनों पर सम्पर्क किया गया । उनके चेहरे से मिलते-जुलते सीटीटीवी भी मंगाए गए हैं। पहचान के लिए परिजनों को भी उन्हें दिखाया गया है। परिजनों ने उन्हें पहचान लिया है। ग्वालियर के बाद उन्हें झांसी स्टेशन पर लगे सीसीटीवी में देखा गया। जब उसे परिजनों को दिखाया गया तो उन्हें पहचान लिया गया है। उनके बारे में और भी जानकारी जुटाई जा रही है।