17 घंटे बाद तालाब से मिले पति-पत्नी के शव:आगरा में मंगलवार को विवाद के बाद पत्नी ने लगाई थी तालाब में छलांग

आगरा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएसी के गोताखोरों ने दोनों के शवों को तालाब से निकाल लिया है। - Dainik Bhaskar
पीएसी के गोताखोरों ने दोनों के शवों को तालाब से निकाल लिया है।

पति-पत्नी के बीच हुए विवाद के बाद पत्नी ने घर के पास स्थित तालाब में छलांग लगा दी। पत्नी को बचाने के लिए पति भी तालाब में कूद गया। दोनों की तालाब में डूबने मौत हो गई है। 17 घंटे बाद सुबह करीब 10 बजे गोताखाेरों ने दोनों के शव तालाब से निकाले हैं। शव मिलने के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

पत्नी से हुआ था विवाद
आगरा के थाना मलपुरा के गांव गढ़ी दौलता निवासी बहादुर (28) का मंगलवार शाम करीब पांच बजे अपनी पत्नी दीपा से विवाद हो गया था। विवाद में पत्नी दीपा गुस्से में घर से बाहर निकल आई। बहादुर भी उसके पीछे-पीछे आ गया। दीपा भागते हुए घर से करीब 300 मीटर दूर स्थित तालाब में कूद गई। दीपा को तालाब में कूदते देख बहादुर ने भी उसके पीछे छलांग लगा दी। तालाब गहरा होने के कारण दोनों डूब गए। दोनों के तालाब में कूदने की जानकारी पर उनके परिजन और गांव वाले भी तालाब के पास पहुंच गए। पुलिस को भी सूचना दी गई। बारिश और अंधेरा होने के कारण गांव का कोई व्यक्ति तालाब में उतरने को तैयार नहीं हुआ था।

17 घंटे बाद मिले शव
सूचना पर पहुंची पुलिस ने तालाब में दोनों की तलाश के लिए गोताखोरों को बुलाया। देर शाम गोताखोरों के आने के बाद तालाब में उनकी तलाश शुरू की गई लेकिन अंधेरे के कारण तलाश में गोताखोरों को दिक्कत हो रही थी। ऐसे में काम रोक दिया गया। बुधवार सुबह फिर से तालाब में पीएसी के गोताखोर उतारे गए। कड़ी मशक्कत के बाद 15 लोगों की टीम ने बुधवार सुबह करीब 10 बजे दोनों के शवों को तालाब से निकाल लिया। पति-पत्नी के तालाब में डूबने से मौत के बाद परिवार में चीख-पुकार बची है। बहादुर के एक बेटी और एक बेटा है। मलपुरा पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।