ब्रजवासी नेताओं ने तोड़े 'दल परिक्रमा' के रिकॉर्ड:सियासी हवा देखकर बदला पाला, अब भी जारी है भागमभाग

आगरा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तीन दिन पहले सपा विधायक हरिओम यादव व सपा नेता डा. धर्मपाल सिंह ने भाजपा ज्वाइन की। - Dainik Bhaskar
तीन दिन पहले सपा विधायक हरिओम यादव व सपा नेता डा. धर्मपाल सिंह ने भाजपा ज्वाइन की।

ब्रज परिक्रमा के लिए मशहूर आगरा, मथुरा और उसके समीपवर्ती जिलों की धरती पर दलबदलू नेताओं ने अब दल परिक्रमा के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। दलगत राजनीति में दिग्गजों को अब कोई भरोसा नहीं रहा है।

'चुनावी हवा का रुख देखो। टिकट पाओ और फिर चुनाव जीतकर सत्ता का सुख लो' दल बदलू नेताओं की सोच यहीं तक सिमट कर रह गई है। सांसद से लेकर विधायक, मंत्री एवं पार्टी के दिग्गज नेता ब्रज में दल परिक्रमा का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते नजर आ रहे हैं।

आगरा में जारी है पाला बदलो प्रतियोगिता

आगरा की बात करें तो यहां पाला बदलने वालों की कतार बहुत लंबी हो गई है। आगरा में अभिनेता राज बब्बर, केंद्रीय राज्य मंत्री प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल समेत पूर्व सांसद चौधरी बाबूलाल, भाजपा सांसद राजकुमार चाहर, पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा अरिदमन सिंह, प्रदेश के राज्यमंत्री डॉ जीएस धर्मेश, पूर्व एमएलसी रामसकल गुर्जर, पूर्व मेयर अंजुला सिंह माहौर, पूर्व मेयर इंद्रजीत आर्य, पूर्व विधायक मधुसूदन शर्मा, पूर्व विधायक भगवान सिंह कुशवाह, पूर्व विधायक कालीचरण सुमन, पूर्व विधायक वीरू सुमन, पूर्व विधायक धर्मपाल सिंह, भाजपा विधायक जितेंद्र वर्मा, भाजपा विधायक हेमलता दिवाकर कुशवाह, पूर्व विधायक गुटियारी लाल दुबेश, पूर्व विधायक भगवान सिंह कुशवाहा आदि ने सियासी हवा देखकर पाला बदला। प्रो. एसपी सिंह बघेल का रिकॉर्ड हाल ही में पूर्व विधायक धर्मपाल सिंह ने तोड़ा है।

प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल पहले सपा में रहे। उसके बाद बसपा में चले गए, फिर भाजपा में आ गए। अभी तक उन्होंने तीन दल ही बदले थे लेकिन पूर्व विधायक डॉक्टर धर्मपाल सिंह ने जनमोर्चा के बाद बसपा में एंट्री की, फिर कांग्रेस में चले गए। उसके बाद सपा का दामन थाम लिया। अब भाजपा में आ गए हैं।

ब्रज के अन्य जनपदों में पार्टियां डाल-डाल तो नेता पात-पात

मथुरा समेत हाथरस, फिरोजाबाद, मैनपुरी, कासगंज में भी यही खेल चला। इन स्थानों पर भी सियासी रुख देख पुरानी पार्टियों का चोला उतार नई पार्टी का चोला पहने में दिग्गजों ने देर नहीं की। भाजपा के कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण लक्ष्मी, पूर्व मंत्री श्यामसुंदर शर्मा एवं पूर्व मंत्री तेजपाल सिंह, पूर्व सांसद मानवेंद्र सिंह कभी एक दल में नहीं रहे। वक्त की नजाकत और मौका देख कर कई बार पाला बदला है।

कासगंज में पूर्व विधायक ममतेश शाक्य, पूर्व विधायक हसरतउल्ला, पूर्व मंत्री मानपाल सिंह ने दल बदलकर अपनी राजनीति चमकाई। एटा में विधायक आशीष यादव ने सपा छोड़ रालोद से पिछला विधानसभा चुनाव लड़ा। मैनपुरी में पूर्व विधायक सोबरन सिंह यादव, पूर्व विधायक उर्मिला यादव ने भी पार्टी बदली।फिरोजाबाद में सपा से विधायक चुने गए हरिओम यादव अब भाजपा में चले गए हैं।

विधायक डा. मुकेश वर्मा भाजपा छोड़ सपा में चले गए हैं। रामगोपाल पप्पू लोधी भी बसपा छोड़कर भाजपा में शामिल होकर विधायक बने हैं। पूर्व विधायक अजीम भाई, पूर्व विधायक राकेश बाबू, पूर्व विधायक रामवीर सिंह आदि ने चुनावी हवा का रूख देख पाला बदल लिया है।