पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेस्टोरेंट खुले मगर कारोबारी खुश नहीं:आगरा के व्यापारियों ने कहा- 9 बजे के बाद ही आते हैं ग्राहक, इसी समय लगा कोरोना कर्फ्यू

आगरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आगरा में ताजमहल समेत सभी स्मारकों को खोलने के बाद अब प्रशासन ने 21 जून से रेस्टोरेंट होटलों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोलने के निर्देश दिए हैं। कोरोना कर्फ्यू को रात में 9:00 बजे से लागू करने का आदेश भी दिया है। लेकिन इस पर भी होटल और रेस्टोरेंट कारोबारियों में खुशी नहीं है। उनका कहना है कि दुकानदारी के समय होटल रेस्टोरेंट बंद करने होंगे। 9 बजे के बाद अच्छी दुकानदारी होती है। इन कारोबारियों की मांग है कि नाइट कर्फ्यू का समय रात 11 बजे से शुरू हो जिससे दुकानदारी प्रभावित नहीं होगी।

शहर में लगभग 400 छोटे बड़े होटल हैं। इसके अलावा अलग-अलग स्थानों पर 500 से ज्यादा रेस्टोरेंट है। अभी इसमें से कुछ जगहों पर ही ऑनलाइन फूड डिलीवरी हो रही है। अब सरकार ने इन्हें खोलने के निर्देश दिए हैं। कारोबारियों का कहना है कि ग्राहक पहले से ही कम हो गए हैं। कोरोना के चलते कारोबार बुरे दौर से गुजर रहा है। कारोबारियों ने गुजरात की तर्ज पर होटल रेस्टोरेंट के संपत्ति कर में छूट देने की मांग भी की है। उनका कहना है कि सरकार अगर रियायत दे तो इस उद्योग को बचाया जा सकता है।

क्या बोले व्यापारी

आगरा टूरिज्म डेवेलपमेंट फाऊंडेशन के सचिव गौरव चौहान ने बताया कि अभी तक शाम 7 बजे तक की अनुमति थी। अब इसे बढ़ाकर 9 बजे कर दिया गया है। यह छूट किसी काम की नहीं है। रेस्टोरेंट, होटल, ढाबा आदि में ग्राहक 8 बजे के बाद आता है, जो देर रात तक खुलते हैं। सरकार इस क्षेत्र को बचाने के लिए विशेष रूप से 11 बजे तक की छूट दे।

होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के सचिव संजीव जैन ने बताया कि लगभग 2 साल से रेस्टोरेंट कारोबार खराब दौर से गुजर रहा है। सरकार ने जो छूट दी है वह सही है,लेकिन इसका समय बढ़ाया जाए। सभी प्रतिष्ठान जब 9 बजे बन्द हो जाएंगे जबकि उसी समय लोग परिवार के साथ डिनर के लिए रेस्टोरेंट आते हैं। इस लिए इस उद्योग के लिए समय 11 बजे तक किया जाए।

खबरें और भी हैं...