आगरा...102 करोड़ की टैक्स चोरी का मास्टर माइंड गिरफ्तार:CGST की टीम ने घर से पकड़ा, 691 करोड़ रुपए के फर्जी बिल बनाने के मामले में दो साल से था फरार

आगरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मास्टर माइंड नितिन वर्मा गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
मास्टर माइंड नितिन वर्मा गिरफ्तार।

सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (CGST) कमिश्नरेट आगरा के प्रवर्तन दल ने रविवार को टैक्स चोरी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। फर्जी बिल जारी कर 102 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी करने वाले गिरोह के मास्टर माइंड नितिन वर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। टीम ने उसको आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर-7 से पकड़ा। इसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से जेल भेज दिया गया है।

दिसंबर 2019 से हो रही थी तलाश
गिरोह के मास्टरमाइंड नितिन वर्मा ने साल 2017 से 2019 के बीच फर्जी आधार नंबर और पैन नंबर से करीब 126 फर्जी फर्में विभिन्न राज्यों में रजिस्टर्ड कराई थीं। उसने इन फर्मों के बीच बिना माल का लेन-देन किए करीब 691 करोड़ के फर्जी इनवाइस, बिल और ईवे बिल जारी किए थे। इन फर्जी बिल से उसने करीब 102 करोड़ रुपए की टैक्स की चोरी और इनपुट टैक्स क्रेडिट (आइटीसी) क्लेम कर ली। दिसंबर 2019 में सीजीएसटी की जांच शाखा ने इस मामले की जांच की थी। इसमें गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार भी हुआ था। तब इसमें मास्टर माइंड नितिन वर्मा का नाम सामने आया था। तभी से विभाग को उसकी तलाश थी।

कोर्ट में किया गया पेश
टीम ने रविवार सुबह आरोपी को उसके घर से गिरफ्तार करने के बाद दोपहर में कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। कार्रवाई सीजीएसटी आयुक्त ललन कुमार के निर्देशन में संयुक्त आयुक्त भवन मीना के मार्गदर्शन में सहायक आयुक्त अनिल शुक्ला, अधीक्षक ऋषि देव सिंह और संजय कुमार ने कर अपवंचन शाखा के निरीक्षक सतीश कुमार सिंह, कपिल कुमार, विपिन कुमार, अजय सोनकर, अनुराग सोनी ने पूरी की।