पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राजस्थान की बारिश का आगरा पर असर:पिनाहट घाट पर फिर बढ़ने लगा चंबल का जलस्तर, फिलहाल खतरे की नहीं उम्मीद, ग्रामीणों को हुई चिंता

आगरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान में हुई बारिश के चलते आगरा में चंबल नदी का जलस्तर बढ़ा - Dainik Bhaskar
राजस्थान में हुई बारिश के चलते आगरा में चंबल नदी का जलस्तर बढ़ा

आगरा के पिनाहट कस्बा क्षेत्र से सटी चंबल नदी में राजस्थान में हुई बारिश के चलते एक बार फिर जलस्तर बढ़ने लगा है। हालांकि अभी यह खतरे के निशान से काफी दूर है और फिलहाल खतरे की कोई आशंका नहीं है। इसके बावजूद मात्र एक माह पूर्व परेशानी झेले ग्रामीणों की चिंता बढ़ गयी है।

पहले आ चुकी है बाढ़

जानकारी के अनुसार पिछले माह राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में भारी बारिश के चलते चंबल नदी में भीषण बाढ़ आई थी जिसके चलते तटवर्ती इलाके के दर्जनों गांव बाढ़ से प्रभावित हुए थे और ग्रामीणों का भारी नुकसान हुआ था। ग्रामीणों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा था। अभी तक नुकसान की भरपाई नहीं हो पाई है।

एक दिन में 5 मीटर बढ़ा जलस्तर

राजस्थान में हुई भारी बारिश के चलते रविवार को सुबह से चंबल नदी का जलस्तर एक बार फिर बढ़ने लगा है। पिनाहट घाट पर चंबल नदी का जलस्तर 111 मीटर से बढ़कर 116 मीटर तक पहुंच गया। चंबल किनारे मनी भोलेनाथ का मंदिर पूरी तरह डूबने के कगार पर है। चंबल नदी के जलस्तर को बढ़ने से तटवर्ती इलाकों के लोगों में चिंता बढ़ गयी है।

फिलहाल नहीं है खतरा

सिंचाई विभाग एवं वन विभाग के कर्मचारियों के मुताबिक बरसात का पानी होने के चलते जलस्तर बढ़ा है फिलहाल खतरे की कोई आशंका नहीं है। फिलहाल चंबल नदी में 5 मीटर जलस्तर बढ़ गया वही जलस्तर कल तक और बढ़ने की संभावना जताई गई है। इसी संदर्भ में उपजिलाधिकारी वाह अब्दुल बासित का कहना है बारिश का पानी आने से जलस्तर बढ़ा है , खतरे की कोई बात नहीं है।

खबरें और भी हैं...