आगरा में महिला से गैंगरेप:खेत में मजदूरी के बहाने महिला को बुलाया, 5 दोस्तों ने मिलकर किया गैंगरेप; दहशत के चलते 5 दिन बाद थाने में दर्ज कराई FIR

आगरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़िता ने आरोप लगाया है कि तमंचा तान कर जातिसूचक शब्दों के साथ रेप के बाद धमकाया। - Dainik Bhaskar
पीड़िता ने आरोप लगाया है कि तमंचा तान कर जातिसूचक शब्दों के साथ रेप के बाद धमकाया।

उत्तर प्रदेश के आगरा में दलित महिला के साथ गैंग रेप का मामला सामने आया है। पीड़िता का आरोप है कि गांव निवासी युवक ने खेत पर काम करने के लिए बुलाया था। फिर दोस्तों के संग मिलकर दबोच लिया। फिर बारी-बारी से रेप किया। किसी को कुछ बताने पर परिवार को जान से मार डालने की धमकी दी।

दहशत के चलते पीड़िता ने घटना के 5 दिन बाद थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने SC-एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।

एक ने हाथ पकड़े, दोस्तों ने रेप किया
मामला कस्बा पिनाहट के बासौनी थाना क्षेत्र का है। यहां के एक गांव निवासी दलित महिला (35) का आरोप है कि बीती 8 जुलाई की सुबह गांव का ही रहने वाला मनीष अपने खेत पर मक्का तोड़ने के लिए बुलाकर ले गया था। महिला गांव की अन्य महिलाओं के साथ खेत पहुंची। मनीष अपने साथियों सतीश, ब्रजमोहन, जितेंद्र और पंकज के साथ पहले से ही मौजूद था। पांचों ने मिलकर दबोच लिया। जितेंद्र ने हाथ पकड़कर मोड़ दिए। फिर ब्रजमोहन और पंकज ने बारी-बारी से रेप किया। वहीं, मनीष और सतीश ने बाकी मौके पर मौजूद महिलाओं का मुंह दबा दिया।

रेप के बाद दी धमकी
महिला का आरोप है कि रेप के बाद उन लोगों ने तमंचा तान कर जातिसूचक शब्दों के साथ धमकाया। शिकायत करने पर बच्चों समेत पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी। दहशत के चलते 5 दिन बाद पुलिस के पास शिकायत की हिम्मत जुटा पाई।

SC-एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज
SSP मुनिराज के मुताबिक, मामले में पीड़िता की शिकायत पर तत्काल मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपियों कि तलाश शुरू कर दी गई है। महिला का मेडिकल करवाकर जांच की जा रही है। पुलिस ने मुकदमे में SC-एक्ट की धाराएं भी लगाई हैं। हालांकि, पुलिस इसे चुनावी रंजिश से जोड़ कर भी देख रही है।

खबरें और भी हैं...