प्रियंका गांधी की रिहाई को लेकर आगरा में प्रदर्शन:कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट में की नारेबाजी, पुलिस ने हिरासत में लिया

आगरा:3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बुधवार को प्रियंका की रिहाई को कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस पकड़कर पुलिस लाइन ले गई। - Dainik Bhaskar
बुधवार को प्रियंका की रिहाई को कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस पकड़कर पुलिस लाइन ले गई।

लखीमपुर खीरी प्रकरण में मृत किसानों के परिजनों से मिलने जा रहीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को सीतापुर में दो दिन से हिरासत में रखा गया है। इसके खिलाफ कांग्रेसियों में आक्रोश है। बुधवार को प्रियंका की रिहाई को कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस पकड़कर पुलिस लाइन ले गई।

कांग्रेसी कर रहे है लगातार विरोध
लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के बाद उत्तर प्रदेश में माहौल गर्मा गया है। इस मुद्दे पर विपक्ष लामबंद हैं। कांग्रेस की कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा दो दिन पहले मृतक किसानों के परिजनों से मिलने लखीमपुर खीरी जा रही थीं, लेकिन उन्हें सीतापुर में ही रोक लिया गया। उन्हें हिरासत में लेकर सीतापुर में गेस्ट हाउस में रखा गया है। दो दिन से वह हिरासत में हैं। इसके विरोध में बुधवार को कांग्रेसियों ने विरोध प्रदर्शन किया। बुधवार दोपहर एमजी रोड स्थित पूर्व कार्यवाहक शहर अध्यक्ष हाजी जमीलुद्दीन कुरैशी के कार्यालय पर सभी कांग्रेसी एकत्र हुए। वहां से सभी केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जुलूस के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे। कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर उन्होंने पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को रिहा करने की मांग की।

पुलिस ने लिया हिरासत में
कलेक्ट्रेट में नारेबाजी कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वहां से सभी को पुलिस लाइन ले जाया गया। जहां बाद में सभी को रिहा कर दिया गया। इसके साथ आगरा से बड़ी संख्या में कांग्रेसी सीतापुर गए हैं। वहां पर सभी लोग प्रियंका गांधी को रिहा करने की मांग को लेकर चल रहे प्रदर्शन में शामिल हुए हैं। प्रदर्शन में डा. मधुरिमा शर्मा, दिनेश बाबू शर्मा, अश्वनी जैन, गौरव शर्मा, गीता सिंह, चंद्रमोहन पाराशर आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...