आगरा को आज भी याद हैं दिलीप कुमार:फिल्म शूटिंग के लिए शहर में तीन बार आए थे, होटल ग्रांड में घंटों तक करते रहते थे शेरो-शायरी पर चर्चा...याद करते हुए फैन फूट-फूटकर रोया

आगरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दिलीप कुमार की तस्वीर देख फूट-फूटकर रोया फैन। - Dainik Bhaskar
दिलीप कुमार की तस्वीर देख फूट-फूटकर रोया फैन।

फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार का बुधवार को मुंबई में निधन के बाद आगरा में उनका एक फैन फूट-फूटकर रोया। पुराने समय में दिलीप कुमार से मिल चुके लोगों ने भी यादें साझा करते हुए निधन पर शोक जताया।

3 बार शूटिंग के सिलसिले में आए आगरा

गजल गायक सुधीर नारायण के अनुसार दिलीप कुमार सबसे पहले 1964 में वैजयंती माला के साथ फिल्म लीडर का गीत फिल्माने ताजमहल पर आए थे। इसके बाद 1982 में विधाता की शूटिंग के लिए संजय दत्त,अमरीश पुरी,सुभाष घई और सायरा बानो के साथ आए थे और करीब तीस दिन तक होटल मुगल शेरेटन (आईटीसी मुगल) में रुके थे। इस दौरान टूरिज्म गिल के अध्यक्ष अरुण डंग के पास होटल ग्रांड में भी बैठे थे और लगातार शेरो-शायरी पर चर्चा करते रहते थे।आगरा में जन्मे शायर गालिब के शेर उन्हें बहुत पसंद थे।

दिलीप कुमार के निधन पर फैन विपिन बहुत रोए

आगरा के नुनिहाई क्षेत्र के रहने वाले विपिन कुमार दिलीप कुमार के बहुत बड़े फैन हैं। 60 साल के विपिन बताते हैं कि दिलीप कुमार की लगभग हर फिल्म उन्होंने देखी है। उनकी फिल्मों के गीत आज भी लोग फिल्मों में इस्तेमाल कर लेते हैं। उन्होंने आज तक कोई फ्लॉप फिल्म नहीं बनाई। उनके निधन की बात पर जवाब देते देते विपिन रोने लगे।

शूटिंग के दौरान भीड़ रोकना मुश्किल हो जाता था

हैंडराइटिंग एक्सपर्ट राजकुमार का कहना है कि जब दिलीप कुमार आगरा शूटिंग के लिए आते थे तो उनकी शूटिंग की जगह पर इतनी भीड़ हो जाती थी कि दर्जनों पुलिसकर्मियों को व्यवस्था संभालनी पड़ती थी। हम चाहकर भी उनका ऑटोग्राफ नहीं ले पाए थे।

खबरें और भी हैं...