ताजनगरी के 10 चौराहों पर 10 अधिकारियों की ड्यूटी:शाम को चौराहों पर नहीं लगा जाम, लोग बोले-काश ऐसा रोज हो, आईजी ने हरीपर्वत से देहली गेट तक पैदल किया निरीक्षण

आगरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रामबाग चौराहे पर गुरुवार शाम को चौराहा एकदम खाली था। इस कारण जाम की समस्या नहीं रही। - Dainik Bhaskar
रामबाग चौराहे पर गुरुवार शाम को चौराहा एकदम खाली था। इस कारण जाम की समस्या नहीं रही।

ताजनगरी आगरा में जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए बुधवार को IG नवीन अरोड़ा ने एक मास्टर प्लान बनाया। इसके तहत चुने गए 10 चौराहों पर आज शाम साढे़ पांच बजे से सात बजे तक पुलिस के 10 अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई। अधिकारी डेढ़ घंटे चौराहों पर रहे। ऐसे में इन व्यस्ततम चौराहों पर जाम दिखाई नहीं दिय। चौराहे अतिक्रमण मुक्त दिखे। खाली चौराहे देखकर लोग बोले, काश ऐसा रोज हो।

कल आइजी ने जारी किया था ट्रैफिक का मास्टर प्लान
IG नवीन अरोरा ने बुधवार को ट्रैफिक का मास्टर प्लान जारी किया था। उन्होंने बताया था कि चुने गए 10 चौराहों पर गुरुवार से 45 दिन दो ट्रैफिक फ्लाइंग स्क्वायड कड़ी निगरानी रखेंगे। एक स्क्वायड में एक टीआइ, एक एचसीपी और तीन कांस्टेबल रहेंगे। जाम लगने की जानकारी होने पर ये स्क्वायड मौके पर जाएंगे और जाम खुलवाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वाट्सएप पर एक ग्रुप बनाया जाएगा। इसमें सभी विभाग के अधिकारी जोड़े जाएंगे। एसपी सिटी और एसपी ट्रैफिक इसके एडमिन रहेंगे। सड़कों पर निर्माण कार्य शुरू करने से पहले इस ग्रुप पर ही जानकारी देनी होगी। इसके तहत इन चौराहों पर अधिकारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है।

हरीपर्वत चौराहे पर शाम को आईजी नवीन अरोरा ने यातायात व्यवस्था का जायजा लिया।
हरीपर्वत चौराहे पर शाम को आईजी नवीन अरोरा ने यातायात व्यवस्था का जायजा लिया।

इन चौराहों पर तैनात रहे अधिकारी
हरीपर्वत चौराहे पर एसपी सिटी, वाटर वर्क्स चौराहे पर एसपी ग्रामीण पश्चिमी, भगवान टाकीज चौराहे पर एसपी ग्रामीण पूर्वी, देहली गेट पर सीओ हरीपर्वत, राजपुर चुंगी तिराहे पर सीओ फतेहाबाद, खेरिया मोड़ चौराहे पर सीओ अछनेरा, बिजली घर चौराहा पर सीओ छत्ता, मधुनगर चौराहा पर सीओ सदर, रामबाग चौराहे पर सीओ एत्मादपुर और बोदला चौराहे पर सीओ ट्रैफिक शाम साढे़ पांच बजे से रात सात बजे तक उपस्थित रहे। आइजी नवीन अरोरा के निरीक्षण करने की संभावना को देखते हुए सभी चौराहों पर पुलिस सक्रिय रही। रामबाग चौराहे पर शाम पांच बजे से पहले हालात बदल गए। पूरे चौराहे को खाली करा दिया गया। दुकान, ठेल और ऑटो वाले नजर नहीं आए। ट्रैफिक सामान्य गति से चल रहा था। सामान्य दिनों में चौराहा पार करने में 10 से 15 मिनट लग जाते थे।

हरीपर्वत चौराहे पर अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते आईजी नवीन अरोरा।
हरीपर्वत चौराहे पर अधिकारियों के साथ निरीक्षण करते आईजी नवीन अरोरा।

आइजी ने खुद संभाली कमान
साढे़ पांच बजे आईजी नवीन अरोरा चौराहों को देखने खुद निकले। शाम करीब पौने छह बजे वो हरीपर्वत चौराहा पहुंचे। यहां पर ट्रैफिक सामान्य था। इसके बाद आइजी यहां से पैदल-पैदल देहली गेट पहुंचे। यहां पर भी पुलिस मुस्तैद थी। आइजी ने खडे़ होकर ट्रैफिक संचालन का जायजा लिया। उन्होंने लोगों को बात भी की। लोगों से यातायात के नियमों का पालन करने की अपील की।

10 चौराहों पर बदलेगी ट्रैफिक व्यवस्था

गुरुवार से नई यातायात व्यवस्था की शुरुआत की जा रही है। इसके लिए फर्स्ट फेज में 45 दिन के लिए 10 चौराहों को चयनित किया गया है और इसके बाद 15 नवंबर से और चौराहों को भी इसमें जोड़ा जाएगा। यह प्रमुख चौराहे हरीपर्वत, देहलीगेट, बोदला, राजपुर चुंगी, रामबाग, बिजलीघर, वाटरवर्क्स, मधुनगर, भगवान टॉकीज और खेरिया मोड़ हैं। चौराहे पर सिविल और ट्रैफिक पुलिस दोनों की जिम्मेदारी तय होगी। सिपाही बॉडी वार्म कैमरे और सेफ्टीवार टार्च, जैकेट समेत सभी उपकरणों से लैस होंगे। एक जगह एकत्रित होने के बजाए अलग-अलग दिशाओं में खड़े होकर ट्रैफिक व्यवस्था देखेंगे।

चौराहे से 50 मीटर न ठेला और न कोई स्टैंड

IG नवीन अरोड़ा ने कहा था कि इस अभियान में सबसे पहले पुलिस अपने आपको सही रखने पर जोर देगी। कोई भी पुलिस कर्मी ट्रैफिक के नियमों को तोड़ता दिख गया तो तत्काल कार्रवाई होगी। चौराहों के 50 मीटर तक कोई ठेला, वाहनों का स्टैंड या जमावड़ा नहीं होगा। ऐसा होने पर ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी पर ही कार्रवाई की जाएगी। आगरा में ऑटो चालकों के तेज साउंड बजाने, अतिक्रमण और वाहनों को मॉडिफाईड कर चलती फिरती दुकानों के खिलाफ भी लगातार कार्रवाई की जाएगी।