आगरा में सट्टा माफिया अंकुश मंगल की चार प्रॉपर्टी जब्त:पुलिस ने कमला नगर स्थित कोठियों को किया कुर्क, तीन करोड़ रुपए है कीमत

आगरा5 महीने पहले

आगरा में प्रशासन ने बुधवार को सट्‌टा माफिया अंकुल मंगल के खिलाफ बड़ी काईवाई की है। पुलिस ने सट्‌टा माफिया के तीन मकान और एक प्लाट पर कुर्की की कार्रवाई की है। कार्रवाई के दौरान पुलिस और पीएसी तैनात रही।

सट्‌टा माफिया अंकुश मंगल की संपत्ति कुर्क
सट्‌टे के अंतरराष्ट्रीय सिंडिकेट से जुडे़ आगरा के 10वीं फेल सट्‌टेबाज अंकुश मंगल की संपत्ति पर बुधवार को डीएम के निर्देश पर पुलिस ने कुर्की की कार्रवाई की। कमला नगर स्थित ब्रज धाम और जनक विहार में पुलिस ने अंकुश के तीन मकान और प्लाट को जब्त किया। कुर्की की कार्रवाई के लिए सुबह से अंकुश के घर पर पुलिस और पीएसी तैनात थी। सीओ छत्ता और एसीएम प्रिाम रामप्रकाश की मौजूदगी में कार्रवाई की गई। पुलिस ने कुर्की से पहले मुनादी कराई। पुलिस ने अंकुश मंगल की कोठी के ताले तुड़वाए। इसके बाद सील लगाई गई। कुर्क की गई संपत्ति की कीमत करीब तीन करोड़ रुपए बताई गई है।

कमला नगर स्थित अंकुश मंगल की कोठी को पुलिस ने गुरुवार को कुर्क कर दिया।
कमला नगर स्थित अंकुश मंगल की कोठी को पुलिस ने गुरुवार को कुर्क कर दिया।

10 मुकदमे हैं दर्ज
आगरा के सट्‌टेबाज अंकुश मंगल को पुलिस ने रविवार को फरीदाबाद पुलिस की मदद से गिरफ्तार किया। इसके लिए दो टीमों को लगाया गया था। एसएसपी ने बताया कि अंकुश पर 10 मुकदमे दर्ज हैं। सबसे पहले 2010 में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हुआ। उसके ऊपर न्यू आगरा, कमला नगर, सिकंदरा, ताजगंज, हरीपर्वत थाने में सट्‌टेबाजी और जुए की धारा में मुकदमा दर्ज है। 2022 में भी गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा हुआ।

कमला नगर जनक विहार में अंकुश मंगल की कोठी का ताला तोड़ते पुलिस कर्मी।
कमला नगर जनक विहार में अंकुश मंगल की कोठी का ताला तोड़ते पुलिस कर्मी।

पुलिस से भी मजबूत था उसका मुखबिर तंत्र
अंकुश की पत्नी ने महिला थाने में उसके खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा भी दर्ज कराया था। अंकुर का मुखबिर तंत्र बहुत मजबूत था। पुलिस के अलावा अन्य विभाग के लोगों की वो खातिरदारी करता था, जिससे वहां से उसे जानकारी मिलती रहे। अंकुश के खिलाफ कमला नगर थाने में दर्ज मुकदमे में कोर्ट से गैर जमानती वारंट जारी हुए थे।

पुलिस ने अंकुश मंगल की चार प्रापर्टी जब्त की हैं।
पुलिस ने अंकुश मंगल की चार प्रापर्टी जब्त की हैं।

हाई सिक्योरिटी अपार्टमेंट से पकड़ा
अंकुश दिल्ली से फरीदाबाद के हाई सिक्योरिटी अपार्टमेंट में शिफ्ट हो गया। इस अपार्टमेंट में 80 गार्ड तैनात रहते हैं। कोई बाहरी व्यक्ति अपार्टमेंट के अंदर दाखिल नहीं हो सकता था। फ्लैट का किराया 60 हजार रुपए महीना है।

10वीं फेल बन गया सट्‌टा किंग
एसएसपी सुधीर कुमार ने बताया कि अंकुश अग्रवाल को न्यू आगरा पुलिस ने हरियाणा के फरीदाबाद जिले से गिरफ्तार किया है। वह 10वीं में फेल हो गया था। इसके बाद 2007 में वो अपने कस्बे से आगरा आकर करकुंज चौराहे पर रहने लगा और सट्‌टे का काम शुरू कर दिया। 2014 में उसने आईपीएल में सट्‌टा खिलवाना शुरू किया। 2017 तक आगरा में रहकर सट्‌टे का काम करता रहा। चार साल में उसका नेटवर्क और काम बहुत बढ़ गया था। ऐसे में अंकुश 2017 में आगरा से दिल्ली चला गया। वहां पर उसने बहुत बडे़ स्तर पर सट्‌टे का काम फैला लिया।