2 महीने बाद खुला ताजमहल:​​​​​​​सनराइज से सनसेट तक करें दीदार, एक बार में मात्र 650 सैलानियों को ही दिया जा रहा प्रवेश; पार्क व गार्डन की भी करें सैर

आगरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दो महीने बाद ताजमहल आज पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। - Dainik Bhaskar
दो महीने बाद ताजमहल आज पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है।

कोरोना संक्रमण के चलते पिछले कई दिनों से बंद ताजमहल समेत आगरा के अन्य मान्यूमेंट्स सैलानियों के लिए खुल गए हैं। गाइडलाइन के अनुसार पर्यटकों को एंट्री दी जा रही है। इतना ही नहीं, लखनऊ व नोएडा के पार्क व गार्डन में भी प्रवेश की अनुमति दे दी गई है।

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के आदेश के बाद 16 जून से ताजमहल के अलावा आगरा किला समेत सभी स्मारकों को खोल दिए गए हैं। एएसआई ने पहले 16 अप्रैल से लेकर 15 मई तक के लिए सभी केंद्रीय संरक्षित स्मारक बंद करने का आदेश जारी किया था। इसके बाद 12 मई को एक बार फिर बंद करने का आदेश 15 जून तक बढ़ाने के लिए जारी कर दिया।

4 लाख लोगों को मिलेगी राहत
अधीक्षण पुरातत्वविद डॉ. वसंत कुमार स्वर्णकार ने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए सीमित पर्यटक संख्या के साथ ताजमहल में एंट्री दी जा रही है। अब ताजमहल से जुड़े 4 लाख लोगों को राहत मिलेगी। इनमें होटल, रेस्टोरेंट, गाइड, फोटोग्राफर, टूर आपरेटर, टैक्सी ड्राइवर, हॉकर्स, हैंडीक्राफ्ट और एंपोरियम से जुड़े लोग शामिल हैं।

तीन घंटे के स्लॉट में मात्र 650 को मिलेगा प्रवेश
ताजमहल में तीन घंटे के स्लॉट में एक बार में मात्र 650 सैलानियों को ही प्रवेश दिया जा रहा है। इनमें से 25 फोटोग्राफर और शेष गाइड व अन्य लोग हो सकते हैं। सूर्योदय से ही ताजमहल को खोल दिया गया। सूर्यास्त तक पर्यटक ताज का दीदार कर सकेंगे। बुकिंग ऑनलाइन की जाएगी। साथ ही बिना मास्क के प्रवेश नहीं दिया जाएगा। हाथों को सैनेटाइज करने और थर्मल स्क्रीनिंग के बाद अंदर प्रवेश दिया जाएगा।जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह के अनुसार, अभी शुरुआत में ताजमहल में एक बार में पर्यटकों की संख्या कम रखी गई है, पर हालात सही रहने पर इसे बढ़ा दिया जाएगा।

मेहताब बाग से महंगा हो सकता है दीदार
मेहताब बाग से ताजमहल का दीदार महंगा हो सकता है। मंगलवार को विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष राजेंद्र पैंसिया की अध्यक्षता में हुई बैठक में चर्चा की गई कि पार्श्व में मेहताब बाग पर बनाए गए व्यू पॉइंट से ताजमहल का दीदार महंगा हो सकता है। इतना ही नहीं, सीट पर बैठकर ताज निहारने के लिए ज्यादा पैसे देने पड़ सकते हैं। 11 सीढ़ी स्थिति एडीए के पार्क में इवेंट करने की भी अनुमति मिल सकती है।

लखनऊ व नोएडा में खुले पार्क व गार्डन
अंबेडकर पार्क समिति से संबद्ध पार्क और स्मारक पर्यटकों के लिए मंगलवार से खुल गए हैं। लखनऊ के अंबेडकर पार्क, ईको पार्क के अलावा नोएडा के पार्कों में भी लोग कोविड के नियमों के तहत एंट्री कर सकेंगे। लखनऊ में अंबेडकर पार्क के आंतरिक व वाह्य क्षेत्र, ईको पार्क, काशीराम स्मारक, बौद्ध विहार शांति उपवन में अब प्रवेश मिल सकेगा। नोएडा में गौतम बुद्ध पार्क बादलपुर और राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल एवं ग्रीन गार्डन में भी प्रवेश पर्यटकों को मिल सकेगा। कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए सुबह 11 बजे शाम 6:30 बजे तक पार्क व स्मारक खुलेंगे।

खबरें और भी हैं...