आगरा में थाने के सामने शव रखकर हंगामा:गजक व्यवसायी के घर हलवाई पर उड़ेला गया था खौलता तेल, 10 दिन तक अस्पताल में तड़पता रहा-मौत; परिजनों ने किया थाने पर हंगामा

आगरा:3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हरीपर्वत थाने के सामने एंबुलेंस से शव लेकर पहुंचे परिवारजन, जमकर किया हंगामा। (इनसेट में मृतक हलवाई) - Dainik Bhaskar
हरीपर्वत थाने के सामने एंबुलेंस से शव लेकर पहुंचे परिवारजन, जमकर किया हंगामा। (इनसेट में मृतक हलवाई)

ताजनगरी आगरा में तेल उड़ेलने और सिर में चोट लगने से घायल हलवाई की मंगलवार को उपचार के दौरान मौत हो गई। परिवारजन हलवाई के शव को एंबुलेंस से लेकर थाना हरीपर्वत पहुंचे और हंगामा किया। आरोप है कि पुलिस ने आरोपी गजक व्यवसायी और उसके के खिलाफ खानापूर्ति कर छोड़ दिया है। मृतक के परिवार ने आरोपियों के खिलाफ हत्या की FIR दर्ज कर सख्त कार्रवाई की मांग की है। वहीं, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया।

10 दिन पहले गजक व्यवसायी के घर में हलवाई पर उड़ेल दिया गया था खौलता तेल
दरअसल, तीन जुलाई को आगरा के मशहूर गजक व्यवसायी मनोहर लाल दौलत राम गर्ग गजक वाले के यहां मांगलिक कार्यक्रम था। यहां पर कैटर्स भोलू हलवाई साथी यमुना ब्रिज निवासी महेश चंद्र श्रीवास्तव के साथ काम करने पहुंचे। कार्यक्रम में आए गजक व्यवसायी के परिवारीजन ने खाने में कमी निकालकर कैटर्स भोलू और उसके लड़के से गाली-गलौच करने लगे। इस पर महेश चंद्र ने विरोध किया था। आरोप है कि गुस्से में उन लोगों ने महेश के ऊपर कढ़ाई का खौलता तेल उड़ेल दिया। फिर सिर पर भी किसी भारी चीज से वार किया। महेश के बेहोश होने पर उसको प्राथमिक उपचार देकर घर छोड़ दिया गया। इसके बाद महेश की तबीयत बिगड़ गई थी। इस मामले में महेश ने थाना हरीपर्वत में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को तहरीर दी थी।

उपचार के दौरान हलवाई की मौत, थाने पर शव रखकर किया हंगामा
घायल महेश का उपचार एसएन मेडिकल कॉलेज में चल रहा था। मंगलवार को उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक महेश के परिवारीजन शव को एंबुलेंस में लेकर थाना हरीपर्वत पहुंचे। एंबुलेंस को थाने में खड़ा कर परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया।

पुलिस पर खानापूर्ति करने का आरोप
वहीं, मृतक के बेटे विजय श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस ने मामले में उचित कार्रवाई नहीं की। अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर खानापूर्ति कर दी। मांग की है कि मुकदमे में आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाए। पुलिस ने पीड़ितों को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। उधर, इंस्पेक्टर हरीपर्वत अरविंद कुमार का कहना है कि मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। जांच में अगर किसी की भूमिका सामने आती है तो उसका नाम शामिल किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...