20 हजार लीटर LPG से भरा ट्रक पलटा:5 घंटे रिसाव, बस्तियां खाली कराई, 6km लंबा जाम; माचिस न जलाने का अनाउंसमेंट

आगरा2 दिन पहले
आगरा में एत्मादपुर में रात को गैस टैंकर पलटने से गैस रिसाव होने लगी। इससे इलाके को खाली करा लिया गया।

आगरा में हाईवे पर बुधवार देर रात LPG से भरा टैंकर पलट गया। टैंकर से गैस का रिसाव होने लगा। आधा किलोमीटर तक गैस की गंध फैल गई। आस-पास के क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। लोग अपने घर छोड़कर भाग गए। पुलिस ने मोर्चा संभाला और बिजली सप्लाई बंद करवाई। उसके बाद लोगों से माचिस न जलाने का अनाउंसमेंट करती रही। 5 घंटे तक एत्मादपुर में हाईवे पर गैस रिसती रही। 6 किमी. लंबा जाम लगा रहा।

घटना रात करीब साढे़ नौ बजे की
एत्मादपुर के बरहन तिराहे पर बुधवार रात को मथुरा से फर्रुखाबाद जा रहा LPG का टैंकर बिजली का खंभा तोड़ते हुए पलट गया। टैंकर में 20 हजार लीटर LPG थी। टैंकर पलटने की तेज आवाज आई। आस-पास के लोग घरों से बाहर आए और मौके पर भीड़ लग गई।

करीब आधा किलोमीटर तक गैस की गंध फैलने के चलते नई बस्ती और अन्य गांवों के लोगों को परेशानी होने लगी। सांस लेने में परेशानी होने के चलते लोग घरों से दूर चले गए।

चारों तरफ गैस फैलने के चलते इलाके की बिजली काट दी गई।
चारों तरफ गैस फैलने के चलते इलाके की बिजली काट दी गई।

बिजली सप्लाई कर दी बंद
LPG टैंकर पलटने और गैस रिसाव की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। आनन-फानन में इलाके की बिजली सप्लाई बंद कराई गई। फायर ब्रिगेड भी पहुंच गई। घटना के करीब एक घंटे तक गैस रिसाव बंद करने के लिए कोई प्रयास नहीं हुआ। समझ ही नहीं आ रहा था कि रिसाव को कैसे बंद किया जाए। जैसे-जैसे समय बीत रहा था, चारों तरफ गैस की गंध बढ़ती जा रही थी।

स्टीयरिंग फेल होने से हुआ हादसा
टैंकर चालक करीम मुल्ला ने बताया कि वो मथुरा रिफाइनरी से फर्रुखाबाद टैंकर लेकर जा रहा था। अचानक टैंकर की स्टीयरिंग फेल हो गई। इस कारण टैंकर खंभे से टकराता हुए पलट गया। उसने उच्च अधिकारियों को इसकी जानकारी दे दी है।

6 किलोमीटर तक लगा जाम
टैंकर से गैस रिसाव होने के चलते पुलिस ने हाईवे पर यातायात रोक दिया। इस कारण दोनों तरफ कई किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया। रात 12 बजे तक एत्मादपुर से टूंडला तक जाम था। वहीं, एत्मादपुर से छलेसर तक वाहनों की लाइन लगी थी। पुलिस ने रूट डायवर्ट किया, इससे कुबेरपुर और खंदौली रोड पर भी जाम लगा गया।

गैस खत्म होने का इंतजार करते रहे
गैस रिसाव पर रात पौने 12 बजे मथुरा रिफाइनरी से इंजीनियर भी आ गए। टैंकर को हटाने के लिए क्रेन भी मंगाई गई। लेकिन, सांस लेने में तकलीफ के चलते टैंकर को सीधा नहीं किया जा सके। ऐसे में गैस के खत्म होने तक इंतजार किया गया। वहीं, पुलिस वाहन चालक और अन्य लोगों से माचिस जलाने, बीडी- सिगरेट न पीने के लिए अनाउंसमेंट करती रही। लोगों को भी घर नहीं जाने दिया गया। ठंड में लोग अपने घरों से बाहर खडे़ रहे।