आगरा में कोरोना से राहत तो डेंगू ने बढ़ाई आफत:पांच दिन में कोरोना का नहीं आया नया केस, डेंगू और बुखार के मरीजों की बढ़ रही संख्या, 29 मरीजों का चल रहा इलाज

आगरा:2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसएन मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग में डेंगू के लक्षण वाले 13 बच्चे भर्ती हैं। - Dainik Bhaskar
एसएन मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग में डेंगू के लक्षण वाले 13 बच्चे भर्ती हैं।

आगरा में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन अब डेंगू और वायरल फीवर ने परेशानी बढ़ा दी है। सरकारी के साथ प्राइवेट अस्पताल में मरीजों भी भीड़ है। एसएन मेडिकल कॉलेज में डेंगू वार्ड में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है। अभी 29 मरीजों का इलाज चल रहा है। कई गांवों में घर-घर में बुखार से पीड़ित लोग हैं।

पांच दिन से नहीं आया कोरोना का नया केस
कोरोना की दूसरी लहर का कहर झेल चुकी ताजनगरी के लिए पिछले कुछ दिन अच्छे रहे हैं। पिछले पांच दिन में आगरा में कोरोना का कोई नया केस नहीं आया है। ऐसे में यह थोड़ी राहत देने वाली बात है। पांच दिन पहले एक दिन में पांच नए मामले आने के बाद ऐसा लग रहा था कि अब कोरोना के नए केसों की संख्या बढ़ने लगेगी। मगर, उसके बाद कोई नया केस नहीं मिला है। वर्तमान में आगरा में कोरोना के सात एक्टिव केस हैं।

एसएन मेडिकल कॉलेज की ओपीडी में पर्चा बनवाने लगी लाइन।
एसएन मेडिकल कॉलेज की ओपीडी में पर्चा बनवाने लगी लाइन।

डेंगू के लक्षण वाले 29 मरीजों का चल रहा इलाज
कोरोना से भले ही राहत हो, लेकिन डेंगू और वायरल फीवर एक नई परेशानी बनकर उभरी है। एसएन मेडिकल कॉलेज में इस समय डेंगू के लक्षण वाले 29 मरीजों का इलाज चल रहा है। मेडिसिनि विभाग में 16 और बाल रोग विभाग में 13 बच्चे भर्ती हैं। इसमें आगरा के आठ संदिग्ध मरीज हैं। वहीं, डेंगू के लक्षण वाला एक बच्चा जिला अस्पताल में भर्ती हुआ है।

ओपीडी में लग रही लंबी लाइन
एसएन मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल की ओपीडी में सुबह से मरीजों की लंबी लाइन लग रही है। सोमवार को सुबह आठ बजे से मरीजों का आना शुरू हो गया था। बड़ी संख्या में गांव से मरीज आए। एक दिन में 1200 से ज्यादा मरीज आ रहे हैं। इसमें से 40 फीसद बुखार, जुकाम और खांसी से पीड़ित हैं। इसी तरह जिला अस्पताल में भी बुखार, जुकाम के मरीजों की संख्या ज्यादा है।

गांवों में बिगड़ रहे हालात
बाह तहसील के हुसैनपुरा गांव में नीमडांडा, इमलीपुरा गांव में डेंगू के लक्षण वाले मरीज मिले हैं। गांव में घर-घर में बुखार से लोग पीड़ित हैं। इसके अलावा पिनाहट टीकम पुरा, उमरैठापुरा, उटसाना में भी बुखार के रोगियों की संख्या बढ़ रही है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव में पहुंचकर कैंप लगाया। वहीं, बरहन के गांव सराय जयराम में भी बड़ी संख्या में लोग बीमार हैं। घर-घर चारपाई बिछी हैं।

खबरें और भी हैं...