• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • Psycho Test Should Be Done Before The Appointment Of Public Representatives And Officials, The Farmers Of The Opposition, The Real Farmers Are Working In The Fields.

आगरा...निषाद पार्टी की अनोखी मांग:जनप्रतिनिधि और अधिकारियों का नियुक्ति से पहले हो साइको टेस्ट, आंदोलन विपक्ष के किसान कर रहे असली किसान खेतों में कर रहे काम

आगरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आगरा में मीडिया से बातचीत करते निषाद पार्टी के अध्यक्ष और एमएलसी डॉ संजय निषाद - Dainik Bhaskar
आगरा में मीडिया से बातचीत करते निषाद पार्टी के अध्यक्ष और एमएलसी डॉ संजय निषाद

आगरा दौरे पर आउट निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और एमएलसी डॉ संजय निषाद ने मीडिया से बातचीत के दौरान राम राज्य और निषाद राज्य द्वारा मिलकर 2022 में सरकार बनाने की बात कही। उन्होंने अजीबो गरीब मांग करते हुए जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की नियुक्ति से पहले उनका साइको टेस्ट किये जाने की मांग की है। उनका कहना है कि आंदोलन करने वाले तथाकथित किसान असली किसान नहीं हैं, बल्कि विपक्ष के किसान हैं। उनके दम पर ही दूसरी पार्टियां सरकार बनाने के सपने देख रही हैं। लखीमपुर कांड में जो भी दोषी है उसके खिलाफ जांच बिठा दी गयी है,कोई कितना ताकतवर हो उसे सजा जरूर मिलनी चाहिए।

आज निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय निषाद एमएलसी बनने के बाद पहली बार आगरा आये। यहां उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा की जमीन हथियाने के लिए 70 सालों से राज करने वाली पार्टियों ने हमें अनुसूचित जाति से निकाल दिया। वर्तमान में 27 प्रतिशत आरक्षण का फायदा केवल कुछ लेदर मैन के बेटे ही उठा रहे हैं। हमारी पार्टी 15 नवम्बर को रमा बाई मैदान मेरैली कर रही है और उसके बाद कुछ अच्छा होगा। 403 सीटों में 160 सीटों पर निषाद बाहुल्य है और हम सत्तादल के साथ गठबंधन में हैं। जल्द मीटिंग कर तय किया जाएगा कि कहां हम अपने दम पर सीट ला सकते हैं और कहां समर्थन से सीट मिल सकती है। उसी के आधार पर आगे सीटों का बंटवारा किया जाएगा। ओम प्रकाश राजभर के लिए उन्होंने कहा 30 साल से वो पार्टी बनाये थे जब भाजपा का साथ मिला तो जीते भी और सत्ता में भी आये। कुछ विपक्षियों ने उन्हें बहका दिया था और वो अब फिर हमारे साथ हैं।

अधिकारी और जनप्रतिनिधि का हो साइको टेस्ट

डॉ संजय निषाद ने तमाम मामलों के बारे में बोलते हुए कहा कि आज जरूरत है की जनप्रतिनिधि और अधिकारियों को नियुक्ति से पहले एक टीम गठित कर उनका साइको टेस्ट करे और उसकी रिपोर्ट में अगर व्यक्ति के अंदर सेवा भाव नजर आए तो ही उसे कलम या बंदूक दी जाए। तभी विसंगतियां दूर हो पायेगी। हेल्थ सर्टिफिकेट के साथ साइको टेस्ट का सर्टिफिकेट भी सरकारी नौकरी के लिए जरूरी होना चाहिए।

फूलन देवी की मां को देंगे सम्मान

डॉ संजय निषाद ने कहा कि विपक्ष ने फूलन देवी को सांसद बनाया पर उनकी मां को सांसद की मां का सम्मान नहीं मिल पाया। फूलन देवी को न्याय नहीं मिला था तभी तो उन्हें बंदूक उठानी पड़ी थी पर दोषियों को सजा दिलाने के लिए किसी ने कुछ नही कहा। हमारी पार्टी उनकी मां को सम्मान दिलाएगी।

सीटों के बंटवारे पर गोलमोल जवाब

डॉ संजय निषाद ने कहा की विपक्ष ने पिछड़ी जाति के तमाम दलों के नेताओं को मंत्री बनाया पर बसपा में जय भीम बोले बिना कमरे में प्रवेश नहीं मिला और कभी की बराबर नहीं बैठ पाया। यही हाल सपा और कांग्रेस में भी रहा, हम पद नहीं नीतियों पर काम करते हैं। भाजपा के साथ गठबंधन पर हम शीर्ष नेताओं के साथ बैठकर बात कर पा रहे हैं और जब चाय वाले का बेटा प्रधानमंत्री बन सकता है तो पार्टी में सभी के लिए बहुत मौके हैं। हमारा पहला काम आरक्षण पर काम करना है और जातिगत जनगणना करवानी है। इसके बाद समय पर जो होगा वो जानकारी दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...