• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • Slogans Of Pakistan Zindabad Raised In Front Of City President In SP's Demonstration, Hinduist Organization Demanded To Register A Case Of Sedition

आगरा में देशद्रोह पर राजनीति:सपा के प्रदर्शन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने के मामले में आया नया मोड़, शहर अध्य्क्ष ने दी तहरीर, आरोपी ने कहा- करा लो जांच

आगराएक वर्ष पहले
आरोपी का नाम पंकज ठाकुर बताया जा रहा है जो अभी कुछ समय पहले ही सपा में आया है।

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को सदर तहसील में चल रहे एक दिवसीय धरने के दौरान सारी हदें पार कर दी। कार्यक्रम का एक वीडियो सामने आया है जिसमें सपा के कार्यकर्ता पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते दिखाई दे रहे हैं। हालांकि सपा के पदाधिकारी इस वीडियो को लेकर ज्यादा कुछ नहीं बोल रहे हैं। इस बीच हिन्दूवादी संगठन ने वीडियो की जांच कराकर उसमें शामिल लोगों पर देशद्रोह का केस दर्ज करने की मांग की है। शहर अध्यक्ष द्वारा एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद को कथित आरोपी के खिलाफ तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की गई है।

देशद्रोह का केस दर्ज कराएगा हिन्दू जागरण मंच

सपा के मीडिया प्रभारी सौरभ गुप्ता ने पहले तो इस प्रकरण को गलत बताया पर वीडियो देखने के बाद उन्होंने आलाकमान से बात कर जवाब देने की बात कही। वहीं हिन्दू जागरण मंच के प्रदेश अध्यक्ष अमित चौधरी ने इसे घृणित बताते हुए कल देशद्रोह मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर देने की बात कही है।

नारे लगाने वाले युवक का नाम पंकज ठाकुर बताया जा रहा है

वीडियो में दिख रहे नारे लगाने वाले शख्श की शिनाख्त हो गई है। आरोपी का नाम पंकज ठाकुर बताया जा रहा है जो अभी कुछ समय पहले ही सपा में आया है। आरोपी ने वीडियो जारी कर खुद को ठाकुर होने और भारतीय होने के साथ पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने से इंकार किया है। उसका कहना है कि वीडियो की जांच करा ली जाए वो कभी दूसरे देश के लिए कुछ कह नहीं सकता है। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने मामले की जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है।

एक घंटे चला था धरना

समाजवादी पार्टी के द्वारा सुबह साढ़े 11 बजे से शुरू हुआ धरना साढ़े 12 बजे ही खत्म हो गया। सपाई अलग अलग गुटों में नजर आए और इसी कारण महानगर अध्यक्ष ने जल्दी धरना खत्म कर औपचारिकता निभाई। सपा शहर अध्यक्ष चौधरी वाजिद निसार ने कहा कि जिस तरह कानून व्यवस्था को ताक पर रख चुनाव में महिलाओं की साड़ी खींची गई और पेट्रोल डीजल से लेकर हर चीज पर महंगाई का असर है। हम और हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरते रहेंगे। जनता सरकार को जवाब देगी।

गुटबाजी के चलते पंचायत चुनाव में हुआ नुकसान

समाजवादी पार्टी के भीतर खाने चल रही गुटबाजी के चलते पूर्व जिलाध्यक्ष पंचायत अध्यक्ष के लिए नामांकन भी दाखिल नहीं करवा पाए थे और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में भी मिनी सैफई कहे जाने वाले बरौली अहीर से एकमात्र प्रत्याशी भी चुनाव हार गई थी। अखिलेश यादव ने जिलाध्यक्ष रामगोपाल बघेल को इसके चलते पदमुक्त किया था।

खबरें और भी हैं...