• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • Swayamsevak And His CA Son Beaten Up, Victim Writes Letter To CM And Sanghpramukh, Accusing Police And Threatens Self immolation

मकान मालिक के बेटे को पीटा:पीड़ित ने सीएम और संघ प्रमुख को लिखी चिट्ठी, आरोपी का दो दिन पहले 6 साल के बच्चे से बंदूक चलवाते वीडियो हुआ था वायरल

आगरा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पहले शिवम का बच्चे को बंदूक चलवाने का वीडियो भी वायरल हुआ था। - Dainik Bhaskar
पहले शिवम का बच्चे को बंदूक चलवाने का वीडियो भी वायरल हुआ था।

आगरा में आरएसएस के सेवाभारती कार्यालय पर 6 साल के बच्चे से बंदूक चलवाने वाले पश्चिम क्षेत्र विद्यार्थी प्रमुख का एक और कारनामा सामने आया है। उसने एक बिजनेसमैन से किराएदार से मकान खाली नहीं करवाने का दबाव बनाया है। पीड़ित ने मुख्यमंत्री और संघ प्रमुख को चिट्ठी लिखकर न्याय की मांग की है। न्याय न मिलने पर उसने आत्मदाह करने की धमकी दी है। विद्यार्थी प्रमुख का कहना है की लिखने दीजिये ,हमने अपने अधिकारीयों को जानकारी दे दी है और वो पत्र घूमकर हमारे पास ही आ जाएगा।

पीड़ित राजीव शर्मा ने पत्र लिखकर न्याय की मांग की है
पीड़ित राजीव शर्मा ने पत्र लिखकर न्याय की मांग की है

थाना लोहामंडी के मोतीकुंज निवासी राजीव शर्मा का दवाओं का काम है। वह बचपन से वृन्दावन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े हैं। उनके ऑफिस के ऊपर बने कमरों में रितु वर्मा और उनके पति किराए पर रहते हैं। राजीव का बेटा वरुण सीए की पढ़ाई कर रहा है। राजीव का आरोप है की किराए के विवाद के बाद उन्होंने रितु से मकान खाली करने को कहा था। इस पर 5 मई को उनके पास सेवा भारती कार्यालय पर रहने वाले शिवम कुमार का फोन आया। उसने धमकी दी कि रितु संगठन की कार्यकर्ता हैं। वह जब तक रहें, उन्हें रहने दीजिए और किराया भी मत लीजिए। राजीव ने कहा कि जब उन्होंने इसका विरोध किया, तो शिवम कुछ ही देर में कुछ युवकों के साथ आ गया और अभद्रता शुरू कर दी।

राजीव ने कहा कि जब बेटे वरुण ने मुझे बचाने का प्रयास किया, तो उसने फोन कर मोती कुंज के चौकी प्रभारी गौरव को बुला लिया। पुलिस के सामने ही उसने वरुण को पीटा। राजीव जब मुकदमा दर्ज कराने के लिए जब बेटे के साथ थाने गए, तो थाना प्रभारी ने उल्टा उनके बेटे और उन्हें ही थाने पर बिठा लिया। केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल के फोन करने पर उन्हें छोड़ा गया। पुलिस ने कार्रवाई तो दूर की बात है, उल्टा उन पर ही अत्याचार किया।

मोहन भागवत को लिखे पत्र के कुछ अंश।
मोहन भागवत को लिखे पत्र के कुछ अंश।

आत्मदाह की धमकी देते हुए लिखा पत्र

राजीव शर्मा का कहना है कि इस मामले के बाद उनका पुत्र मानसिक रूप से परेशान है। हमले के अगले दिन होने वाला उसका पेपर छूट गया है। राजीव शर्मा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत डीजीपी और एसएसपी को पत्र लिख कर स्पीड पोस्ट किए हैं। पीड़ित ने सुनवाई न होने पर जिला मुख्यालय पर आत्मदाह की धमकी दी है। पूरे प्रकरण पर एसओ लोहामंडी से बात करने का प्रयास किया गया पर उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

गुरुवार को ही शिवम कुमार के द्वारा सेवाभारती कार्यालय पर बच्चे से बंदूक चलवाने का वीडियो वायरल हुआ था। शिवम ने बंदूक को एयरगन बताया था।