• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • Ten Intersections Will Be Monitored For 45 Days, Flying Squad Team Will Come As Soon As You Do Facebook, Twitter Or WhatsApp, Tourists Will Feel Good

आगरा...ट्रैफिक मैनेजमेंट का मास्टर प्लान:45 दिन 10 चौराहों पर दो ट्रैफिक फ्लाइंग स्क्वायड की पैनी नजर, 50 मीटर तक न ठेला और न कोई स्टैंड; पर्यटकों को होगा फील गुड

आगरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चौराहों के 50 मीटर तक कोई ठेला, वाहनों का स्टैंड या जमावड़ा नहीं होगा। - Dainik Bhaskar
चौराहों के 50 मीटर तक कोई ठेला, वाहनों का स्टैंड या जमावड़ा नहीं होगा।

ताजनगरी आगरा में जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए बुधवार को IG नवीन अरोड़ा ने एक मास्टर प्लान बनाया। जिसके तहत चुने गए 10 चौराहों पर गुरुवार से 45 दिन दो ट्रैफिक फ्लाइंग स्क्वायड कड़ी निगरानी रखेंगे। 50 मीटर तक न ठेला और न कोई स्टैंड होगा। सोशल मीडिया (वॉट्सऐप, ट्विटर और फेसबुक) पर ट्रैफिक समस्या की शिकायत मिलते ही फ्लाइंग स्क्वायड टीम तत्काल मौके पर पहुंचेगी।

समस्या का समाधान करेगी। इस दौरान लोगों को चेकिंग के लिए बेवजह परेशान नहीं किया जाएगा। जेब्रा लाइन, हेलमेट और सिग्नल लाइट का सही पालन करवाते हुए ट्रैफिक चलाया जाएगा।

IG ने बताया कि अब न कहीं जाम लगने दिया जाएगा और न कहीं वसूली होने दी जाएगी। ताजमहल की तरह आगरा का ट्रैफिक सिस्टेमें पूरे विश्व में मिसाल बनेगा। आला अधिकारी खुद बाइक, साइकिल या अन्य प्राइवेट वाहनों पर सवार होकर सादे कपड़ों में इंस्पेक्शन करेंगे।

दो ट्रैफिक फ्लाइंग स्क्वायड रहेंगे तैनात
एक स्क्वायड में एक टीआइ, एक एचसीपी और तीन कांस्टेबल रहेंगे। जाम लगने की जानकारी होने पर ये स्क्वायड मौके पर जाएंगे और जाम खुलवाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि वाट्सएप पर एक ग्रुप बनाया जाएगा। इसमें सभी विभाग के अधिकारी जोड़े जाएंगे। एसपी सिटी और एसपी ट्रैफिक इसके एडमिन रहेंगे। सड़कों पर निर्माण कार्य शुरू करने से पहले इस ग्रुप पर ही जानकारी देनी होगी।

IG नवीन अरोड़ा ने ट्रैफिक सिस्टम का मास्टर प्लान बताया।
IG नवीन अरोड़ा ने ट्रैफिक सिस्टम का मास्टर प्लान बताया।

फर्स्ट फेज में 45 दिन के लिए 10 चौराहों पर बदलेगी ट्रैफिक व्यवस्था
गुरुवार से नई यातायात व्यवस्था की शुरुआत की जा रही है। इसके लिए फर्स्ट फेज में 45 दिन के लिए 10 चौराहों को चयनित किया गया है और इसके बाद 15 नवंबर से और चौराहों को भी इसमें जोड़ा जाएगा। यह प्रमुख चौराहे हरीपर्वत, देहलीगेट, बोदला, राजपुर चुंगी, रामबाग, बिजलीघर, वाटरवर्क्स, मधुनगर, भगवान टॉकीज और खेरिया मोड़ हैं।

चौराहे पर तैनात पुलिस का यह होगा काम
चौराहे पर सिविल और ट्रैफिक पुलिस दोनों की जिम्मेदारी तय होगी। सिपाही बॉडी वार्म कैमरे और सेफ्टीवार टार्च, जैकेट समेत सभी उपकरणों से लैस होंगे। एक जगह एकत्रित होने के बजाए अलग-अलग दिशाओं में खड़े होकर ट्रैफिक व्यवस्था देखेंगे।

चौराहे से 50 मीटर न ठेला और न कोई स्टैंड
IG नवीन अरोड़ा ने कहा कि इस अभियान में सबसे पहले पुलिस अपने आपको सही रखने पर जोर देगी। कोई भी पुलिस कर्मी ट्रैफिक के नियमो को तोड़ता दिख गया तो तत्काल कार्रवाई होगी। चौराहों के 50 मीटर तक कोई ठेला, वाहनों का स्टैंड या जमावड़ा नहीं होगा। ऐसा होने पर ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी पर ही कार्रवाई की जाएगी।

वाहनों पर भी कसेगा शिकंजा
आगरा में ऑटो चालकों के तेज साउंड बजाने, अतिक्रमण और वाहनों को मॉडिफाईड कर चलती फिरती दुकानों के खिलाफ भी लगातार कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...