• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • The Farmer Guarding The Field Was Attacked, The Villagers Drove Away, The Video Surfaced, Know When The Residential Place Was Shown In Agra

आगरा में तेंदुए की दहशत:खेत की रखवाली कर रहे किसान पर हमला, ग्रामीणों ने भगाया, वीडियो आया सामने , जानिये आगरा में कब - कब रिहायशी जगह दिखा

आगरा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आगरा के थाना बासौनी के हरलालपु - Dainik Bhaskar
आगरा के थाना बासौनी के हरलालपु

आगरा की बाह तहसील के अंतर्गत थाना बासौनी के हरलालपुरा गांव में खेत पर काम करते हुए किसान पर तेंदुए ने हमला कर दिया। किसान की चीखपुकार सुन कर आये ग्रामीणों ने तेंदुए को लाठी डंडों से डरा कर भगाया है। सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम तेंदुए की तलाश में जुट गयी है। ग्रामीणों द्वारा तेंदुए को भगाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, हालाँकि आगरा में पहले भी कई बार रिहाइशी इलाकों में तेंदुआ हमला कर चुका है।

थाना न्यू आगरा के सुरेश नगर में 2016 में तेंदुआ मिला था
थाना न्यू आगरा के सुरेश नगर में 2016 में तेंदुआ मिला था

जानकारी के अनुसार हरबिहारी 50 वर्ष निवासी हरलालपुर रविवार को अपने खेत पर खड़ी फसल की रखवाली कर रहे थे। इसी दौरान अचानक बीहड़ से निकले एक तेंदुए ने किसान पर हमला बोल दिया। तेंदुए के हमले से किसान गंभीर रूप से घायल हो गया। खेतों पर काम कर रहे अन्य लोगों ने किसान की चीख-पुकार पर लाठी डंडा लेकर एवं शोर शराबा कर तेंदुए को भगाया और किसान की जान बचाई। लोगों ने घायल किसान को इलाज के लिए अस्पताल मैं भर्ती कराया। घटना की सूचना पुलिस और वन विभाग को दी गई। मौके पर पहुंचे रेंजर आरके सिंह राठौर व वन कर्मियों ने आसपास क्षेत्र में तेंदुए की तलाश की। रेंजर आरके सिंह राठौर ने मौके पर मौजूद किसानों से पूछताछ की तो किसानों ने बताया कि तेंदुआ हमला करने के बाद जंगल की तरफ भाग गया। फिलहाल वन विभाग की टीमें तेंदुए को तलाशने का प्रयास कर रही है। रेंजर आरके सिंह राठौर के अनुसार ठण्ड के मौसम में शिकार न मिलने पर तेंदुआ भोजन की तलाश में भटक कर आ गया प्रतीत हो रहा है। हमारी टीम रेस्क्यू के प्रयास कर रही है।

सुरेश नगर में तेंदुए को देखने को भीड़ लग गयी थी
सुरेश नगर में तेंदुए को देखने को भीड़ लग गयी थी

2016 में सुरेश नगर में दिखा था तेंदुआ

बता दें की आगरा के थाना न्यू आगरा के कर्बला अंतर्गत सुरेश नगर में एक अधिवक्ता के घर में तेंदुआ दिखाई दिया था। अधिवक्ता ने उसे बहादुरी के साथ कमरे में बंद किया था और बाद में पुलिस और वाइल्ड लाइफ की टीम ने उसे कई घंटों की मशक्क्त के बाद रेस्क्यू किया था। इस दौरान कमरे की दीवार में बड़ा छेद करना पड़ा था।

2017 में सादाबाद में दिखा था

साल 2017 की 11 नवंबर को सादाबाद कस्बे के आगरा रोड स्थित नगला पदम में सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं को झाड़ियों में तेंदुआ दिखाई दिया था। भीड़ देख तेंदुआ पीपल के पेड़ पर चढ़ गया था और क्रेन बुलाकर उसपर चढ़ कर टीम ने रेस्क्यू किया था। बताया गया था की भोजन की तलाश में यमुना नदी के किनारे से होते हुए तेंदुआ यहाँ पहुँच गया था।

सादाबाद में क्रेन मंगा कर तेंदुए को रेस्क्यू किया गया था
सादाबाद में क्रेन मंगा कर तेंदुए को रेस्क्यू किया गया था

2018 में आगरा किला के पास दिखा था

11 नवंबर 2018 को आगरा किला के पीछे तेंदुआ मिलने से अफरा तफरी मच गयी थी , आस पास तमाम पर्यटक होने के कारन प्रशासन के हाथ पाँव फूल गए थे। डीएम आफिस से पूरे मामले की नजर राखी गयी थी और तत्कालीन डीएफओ मनीष मित्तल की अगुवाई में दो घंटे रेस्क्यू आपरेशन के बाद तेंदुए को पकड़ा गया था।

20 जून को एत्माउद्दौलाक्षेत्र में युवक पर किया था हमला

बीती 20 जून को एत्माउद्दौला क्षेत्र में लोगों ने तेंदुए को देखा था पर वन विभाग ने तेंदुआ होने से इनकार कर दिया था।इसके बाद 22 जून को एत्माउद्दौला थाना क्षेत्र अन्तर्गत सती नगर में तेंदुआ एक घर मे घुस गया था और बाद में युवक को घायल कर भागा और एक गोदाम में घुस गया था।लोगों ने तेंदुए को वहीं बन्द कर दिया था और वाइल्ड लाइफ की टीम को सूचना दी थी।वह विभाग और वाइल्डलाइफ एसओएस की टीम ने मिलकर चार घंटे की मशक्कत के बाद तेंदुए को बेहोश कर रेस्क्यू किया गया था।इसके बाद उसे रुनकता कीठम स्थित वाइल्ड लाइफ एसओएस में ट्रांजिट फैसिलिटी में रखा गया था और ठीक होने पर सहारनपुर भेज दिया गया था ।

खबरें और भी हैं...